अपनी पड़ोस वाली आंटी की चुत मारी पोर्न देखते हुए

मेरा नाम ललित है और यह कहानी तब की है जब में सिर्फ 19 साल का था।  हम एक छोटे इलाके में रहते है जहा सभी लोग इज्जत से बात एवं बर्ताव करते है। मै शुरू से ही तकनिकी चीजों में होशियार हु इसीलिए हमारे इलाके  लोग भी मुझसे सलाह लेने आते रहते है।  बारिश का समय था और टीवी चलने में बहुत समस्याएं आ रही थी।  हमारे सामने वाले घर में एक दम्पति रहता था जिसकी शादी कुछ ही साल पहले हुई थी।  बारिश के कारण उनका टीवी भी काम नहीं कर रहा था इसलिए अंकल ने मुझे टीवी सही करने को बोल कर काम चले गए।  शाम के समय में आंटी को आवाज लगता उनके घर में घुस गया और उनसे टीवी का रिमोट माँगा।  आंटी से रिमोट लेकर में टीवी सही करने लगा और अचानक से मेने देखा की वो रिमोट उनके डीवीडी प्लेयर का था।  और जैसे ही मेने टीवी ऑन करने क लिए बटन दबाया टीवी में पोर्न मूवी चलने लगी।  यह देख आंटी डर गयी और मुझसे रिमोट लेकर टीवी बंद कर दिए और मुझे घर जाने को बोला।  

ALso REad: छोटे भाई के लंड से चुदवाई अपनी चुत

घर जाने के थोड़ी देर बाद आंटी ने मुझे कॉल करके घर  वापस बुलाया।  थोड़ी देर चुप बैठने क बाद आंटी ने कहा की ये सब जो तुमने देखा प्लीज किसी से मत कहना और चाहो तो तुम मुझसे पैसे भी ले लो।  थोड़ी देर बाद मेने कहा ठीक है पर मुझे पैसे के बदले कुछ और चाहिए। आंटी ने कहा जो तुम चाहो ले सकता हो बस ये बात को राज रखना अपने अंकल से भी।  मेने कहा ठीक है पर मुहे आपके साथ सेक्स करना है जैसे पोर्न मूवी में होता है।  आंटी ये सुनकर दांग रह गयी और किचन में भाग कर चली गयी।  फिर थोड़े समय बाद में उनके घर से जाने लगा तब उन्होंने मुझे रोका और कहा की ये बस एक बार होगा और उसके बाद सब भूल जाना होगा. मेने जल्दी से हामी भर दी और वापस अंदर चला गया। 

ब्लू फिल्म देख करी आंटी की चुदाई 

अब अंदर जाके मेने डीवीडी प्लेयर का रिमोट लिए और पोर्न मूवी शुरू कर दी।  इसके बाद आंटी दरवाजा बंद करके अंदर आयी और बैठ गयी। आंटी शर्मा रही थी पर मेने उनका हाथ लेकर अपने लंड पर रख दिआ। धीरे धीरे आंटी ने मेरा लंड रगड़ना शुरू किआ और मेरा लोढ़ा बड़ा अकार लेने लगा।  फिर आंटी ने खुद मेरा लुंड पैंट से निकाला और  चूसना शुरू कर दिआ।  अब में भी गरम हो चूका था और मेने आंटी को चूमना शुरू कर दिए जिससे आंटी भी कामुक होने लगी।  मेने दोनों हाथो से आंटी की ब्रा खोल कर उनके नितम्ब आजाद कर चूसना चालू क्र दिए।  चुचे दबने से आंटी बहुत उत्तेजित होने लगी और सिस्किअ भरने लगी।  फिर मेने आंटी को बिस्तर पे लिटाया और उनकी पैंटी को पैरों से अलग कर दिआ। उनकी चुत एकदम सफ़ेद और साफ़ थी बिना किसी बाल  के।  मेने बिना देर किये अपने होठ उनकी चुत पर लगाए और चुत का रसपान करने लगा. उनकी छूट बहुत गीली व महकदार हो गयी थी।  आंटी मेरे बाल पकड़ कर अपनी चुत की तरफ दबाने लगी।  फिर पोर्न मूवी के जैसे मेने अपनी उंगलिअ आंटी की चुत में डाल दी।  

CLick Here: Desi Sex Story

अब आंटी बहुत गरम हो चुकी थी  और मुझसे  मेरा लंड मांग रही थी।  मेने बिना सोचे अपना मोटा लंड एक झटके में आंटी की चुत के छेद में डाल दिआ। आंटी जोर से चिल्लाई और फिर आहे भरने लगी।  मेने चुदाई करनी शुरू की।  पहले धीरे धीरे फिर तेज़ी से जिससे आंटी की तड़प बढ़ती गयी।  मेने पूरी तेजी से चुदाई करना चालू किआ जिससे आंटी को मजा आने लगा और वो ओह्ह अहह अहह अह्ह्ह की आवाजे निकलने लगी. आवाजों  से मेरा जोश बढ़ता गया और मेने पूरी ताकत से अपना लंड आंटी की चुत में डालके चुदाई चालू राखी। 

आंटी की गांड मारी बिलकुल पोर्न जैसे 

कुछ देर आंटी की चुत चोदने के बाद मेने देखा की पोर्न मूवी में लड़का, लड़की की गांड में लंड डाल रहा है।  तो मेने आंटी को भी कुटिया बनने को बोला पर आंटी ने मना करने लगी क्युकी उनकी गांड अबतक किसी ने नहीं मारी  थी और वो बहुत टाइट थी. कुछ देर बाद मेने आंटी को गांड मरवाने के लिए मना  लिआ  और कुतीआ बनने को कहा। फिर अपना लंड लेकर आंटी की गांड पर रगड़ने लगा और फिर मेने अपना लंड डालना शुरू किआ।  उनकी गांड बहुत टाइट  थी तो मेने थोड़ा थूक लगाके उनकी गांड में लंड डालना शुरू किआ।  इस बार उनकी गांड में मेरा लंड चला गया और आंटी को भी मजा आ रहा था।  आंटी ने अपनी गांड थोड़ी उठाई और फिर मेने उनकी गांड छोड़ना शुरू किआ. 2 घंटे की लम्बी चुदाई के बाद आंटी को चरमसुख मिल गया था और मेरा लंड भी शांत हो गया था. में उम्मीद करता हु की आपको ये हवस से भरी कहानी पसन्द आई होगी. बाकी  इससे  भी पढ़ के जाये और अपने दोस्तों को भी बताये। 

Leave a Comment