बाप ने ही सीखा दिआ अपनी बेटी को चुदाई का खेल

यह बात आप लोग तो जानते ही होंगे की बाप और बेटी का रिश्ता कितना पवित्र होता है पर हमारे इस किस्से में आप देख्नेगे की कैसे एक बाप ने अपनी बेटी की चुदाई करने के लिए अजीब तरकीब लगाई और आखिर चुदाई कर दी।

घर में कुल 4 ही लोग रहते थे, बाप भाई और माँ बेटी। बेटी दिखने में बहुत ही सुन्दर और आकर्षक थी और वही उसका छोटा बेटा नशे की आदत में फसा हुआ था। माँ को अब बेटी की शादी की चिंता सताने लगी थी। 

माँ ने बच्चो के पापा से बेटी की शादी के बारे में बात करी और बाप ने भी अब अपने रिश्तेदारों से बात करनस शुरू कर दिआ। बेटी जिसका नाम रुकसाना था वह अभी ठीक से बड़ी भी नहीं हुई थी और उसको अभी शारीरिक सम्बन्धो के बारे में ठीक से पता भी नहीं था। 

कुछ दिन बाद लड़के वाले लड़की देखकर चले गए और शादी का दिन भी कुछ 3 महीने बाद का निकल गया लड़की को भी अब यह सब ठीक नहीं लग रहा था और उसने अपने मम्मी पापा से अभी शादी करने के लिए मना किआ। 

पर शादी अब तय हो चुकी थी और लड़के वाले भी अचे खानदान से थे। बेटी अपनी बात किसी को भी नहीं बता सकती थी उसे शारीरिक सबंध और सेक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता है। और इसलिए उसे अभी शादी करने में भी डर लग रहा है। 

अब शादी में 1 ही महीना रह गए थे और बेटी ने अपनी परेशानी अब अपनी माँ से कहने की कोशिश करी। पर माँ बेटी को ज्यादा कुछ ना समझा पायी और ऊपर   ऊपर की बाते ही कहकर चली गयी। बेटी का डर अब और बढ़ गया क्युकी माँ भी ज्यादा ना समझा पायी थी। 

आंटी को अपने प्यार में फ़साके चोदा 

बेटी ने बाप से पूछा सेक्स की बारे में 

अब शादी के लिए बस 20 दिन बाकी थे और हर जगह तैयारी हो रही थी। बेटी दिन पर दिन परेशान होती जा रही थी। बेटी को कुछ भी समझ नहीं आ रहा था इसलिए उसने अब यह बात अपने बाप से पूछने की ठान ली। 

बहुत हिम्मत करने के बाप बेटी ने अपने बाप को कुछ बात करने के लिए बुलाया। बाप भी अपनी बेटी की शादी को लेकर बहुत खुश था और समझ रहा था की उसकी बेटी को कोई कीमती चीज के बारे में बात करनी होगी।

अब बेटी ने अपनी बाप को एक कमरे में बुलाया और बाप से कहा की उसे अभी शादी नहीं करनी है। बाप ने अपनी बेटी से इस चीज का कारण पूछा और बेटी ने कहा की क्युकी उसे किसी के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाने से डर लगता है। 

बेटी ने कहा की उसे सेक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता है और मम्मी भी उसे ज्यादा कुछ नहीं बता पायी है। यह बात सुनकर बाप के होश उड़ गए थे और उसने अपनी बेटी से पूछा यह तुम किसी बात कर रही हो। 

बेटी ने कहा की यह कोई छोटी बात नहीं है क्युकी आजतक उसने किसी भी लड़के के साथ कभी बात भी नहीं करि थी। अब बाप को बात की गहराई समझ आने लगी और एकदम बेटी बाप के गले लगके रोने लगी। 

बाप को भी अब कुछ समझ नहीं आ रहा था और बेटी रट हुए बोली जा रही थी की उसे अपने बाप की अभी बहुत जरूरत है। अब बाप ने अपनी बेटी से कहा की सेक्स कुछ और नहीं बस एक तरह का प्यार है जो दो लोग करते है। 

बेटी को कुछ समझ ना आया और उसे पने बाप से पूछा की जैसा प्यार वह अपनी बेटी से करती है क्या यह वही प्यार है। बाप ने मना करते हुए कहा की यह उस प्यार के बारे में नहीं है और यह अलग तरह का ही प्यार होता है। 

अब बेटी ने दुबारा कहा की यह किस प्यार के बारे में आप बात कर रहे है जो कोई जता भी नहीं सकता। अब बाप ने अपनी बेटी से कहा की यह प्यार करते समय जताया नहीं जाता और सब अपने आप ही हो जाता है। 

बेटी को कुछ भी समझ नहीं आ रहा था और उसने अपने बाप से कहा की उसे भी यह सेक्स वाला प्यार अपने बाप से चाहिए ताकि उसे बाद में कोई भी दिक्कत ना आये। ऐसा कहने के बाद बेटी ने अपने बाप को दुबारा से गले लगा लिआ और सुकून लेने लगी। 

और भी कहानिया: Family sex story

बाप ने अपनी बेटी को दिखाया चुदाई करने का तरीका 

बेटी के बूब्स बाप से लगे हुए थे और वह अपने बाप को जोर से बाहो में भरे हुए भी थी। अब बाप ने अपनी बेटी से कहा की ठीक है आज मै तुम्हे शारीरिक सम्बन्ध वाला प्यार करके सब समझा दूंगा जिससे तुम्हारा डर खत्म हो जायेगा। 

बेटी बहुत ही खुश हो गयी और अपने बाप को ठीक है बोलकर खाना खाने चली गयी। अब रात के 12 बज गए थे और घर में सब सो रहे थे। बाप चुपचाप अपनी बेटी के कमरे में गया और उसे उठाकर कहा की उसे प्यार आज नहीं करना है क्या। 

बेटी एकदम से उठी और हां बोलती हुई तैयार हो गयी। अब बाप ने अपनी बेटी से कहा की यह प्यार केवल अँधेरे में ही अच्छा लगता है इसलिए तुम लाइट बंद कर दो। बेटी ने ऐसा ही किआ और लाइट बंद कर दी। 

अब बाप ने अपनी बेटी को बिस्तर पर लिटा दिआ और उसके बूब्स पर अपने हाथ सहलाने शुरू कर दिए। बेटी ने बाप से पूछा की यही प्यार है क्या ? बाप ने कहा यह बस शुरुआत है और अभी प्यार होना बाकि है। 

बेटी आराम से वापस लेट गई और बाप अपनी बेटी के दबाने लगा था। बेटी धीरे धीरे गरम होने लगी थी और अब बाप ने अपने होठ बेटी के होठ से मिलाते हुए उन्हें चूसना शुरू कर दिआ। बेटी भी चुपचाप अपने बाप को यह सब करते हुए समझ रही थी। 

अब बेटी को सेक्स धीरे धीरे समझ आने लगा था और उसे एक अलग ही एहसास हो रहा था जो उसे अच्छा लगने लगा था। उसने अपने बाप से कहा की उसे अब और भी प्यार करना है अपने पापा से साथ। बाप ने अब अपनी बेटी से कपडे उतारने के लिए कहा। 

बेटी झट से अब नंगी हो गयी और वापस से बिस्तर पर ही लेट गयी। अँधेरे में बाप भी पूरा नंगा हो गया था और उसका लंड उसकी बेटी के जिस्म पर छू रहा था। बेटी ने अपने बाप का लंड एक हाथ से पकड़ा और पूछा की यह क्या चीज है जो इतनी बड़ी है। 

बाप ने बेटी से कहा की यही वो चीज है जिससे प्यार होता है। अब बाप ने अपने बेटी के बूब्स के निप्पलों को चूसना शुरू कर दिआ और बेटी बुरी तरह से गरम हो गयी। बेटी की चूत भी अब गीली होनी शुरू हो गयी थी और बाप भी अपनी बेटी से पुरे मजे ली रहा था। 

अब बाप ने अपने बेटी को अपना लंड दिआ और कहा की इससे चूसने से प्यार करने में और भी मजा आता है। बेटी ने तभी लंड मुह्ह में लेकर चूसना शुरू कर दिआ और बाप ने अपनी बेटी के मुह्ह की चुदाई करते हुए बेट को खूब लंड चुसाया। 

अब बाप ने अपनी बेटी के दोनों पैर खोले और बेटी से कहा की यह प्यार बाकि चीजों से अलग होता है। इसमें शुरू में दर्द होता है पर बाद में मजा आता है। बेटी सब समझ गयी और बाप ने बेटी को अपना मुह्ह बंद करने और ना चिल्लाने के लिए बोल दिआ। 

अब बात ने अपना लंड बेटी की चूत पे रगड़ा और बेटी कामुक होने लग गयी। बेटी की चूत पे उसके बाप ने थोड़ा सा थूक मला और झटके से लंड बेटी की चूत में घुसा दिआ। बेटी को बहुत ही दर्द होने लगा और वह करहाने लगी। 

पर बाप ने बेटी को सँभालते हुए उसके बूब्स दबाये और बेटी अब शांत हो गयी। अब बाप ने अपनी बेटी की चूत में पूरा लंड उतार दिआ और बेटी भी चुदाई को प्यार समझ रही थी। अब बाप ने आगे पीछे होते हुए बेटी की चूत मारनी शुरू कर दी। 

बेटी कुछ देर तक दर्द में रही पर बाद में उसे भी मजा आने लगा और वह पूरी तरह से कामवासना में खो गयी। बेटी की चुदाई का यह पहला दिन था इसलिए उसे यह एहसास बहुत अछा लग रहा था। बेटी की चूत बाप जोर जोर से चोदे जा रहा था और बेटी भी सेक्स में तड़पती हुई नंगी लंड ले रही थी। 

अब बाप ने अपनी बेटी की काफी देर तक जोरदार चुदाई करि और कुछ आधे घंटे की चुदाई के बाद बाप का लंड झड़ने लगा और उसने अपना सारा वीर्य बेटी की चूत से बाहर लंड निकलकर फेक दिआ। 

चुदाई का प्यार लेने के बाद बेटी बहुत खुश थी अपनी शादी के लिए राजी भी थी। बाप बेटी का यह चुदाई का खेल ज्यादा दिन तक नहीं चला और बेटी की शादी के बाद उसके पति ने ही उसकी चूत को दबाकर चोदा। 

Leave a Comment