भाई बेहेन की अनोखी चुदाई का किस्सा – 1

मै और मेरी बेहेन एक ही साथ बड़े हुए थे और वह मुझसे सिर्फ एक ही साल छोटी थी। उम्र में तो वह मुझसे छोटी ही थी पर उसका यौवन देख कोई नहीं बोल सकता था की वह मुझसे छोटी है। 

मेरी बेहेन दिखने में काफी गोरी और सेक्सी थी जिसकी वजह से कभी कभी मेरे दिल में भी हवस जगह ले लेती थी और अब वह जैसे जैसे बड़ी होती जा रही थी मेरा ख्याल उसके लिए और भी गन्दा होता जा रहा था। 

मेने कई बार अपनी बेहेन के बारे में सोच कर मुठी भी मारी थी जिसकी वजह से मुझे खुद पर शर्म भी आने लगी थी। पर अब मेरी उम्र के साथ मेरी हवस ने सारे अरमानो की जगह ले ली थी। 

अब मेरे दिल में मेरी बेहेन को चोदने के लिए ख्याल आते रहते थे और मै कैसे ना कैसे अपनी बेहेन को दबोचने की फिराक में ही रहता था। अब एक दिन की बात है जब मम्मी और पापा को कही काम से बाहर जाना पड़ा और यह मेरे लिए सबसे अछा मौका साबित भी हुआ। 

मम्मी और पापा ने मुझे घर की जिम्मेदारी दी और बेहेन का ख्याल रखने के लिए बोल कर अपने काम के लिए निकल गए। अब हम दोनों ने ही मिलके घर का सारा काम किआ और खाना भी बना लिआ। 

अब हम दोनों टीवी देख रहे थे और टीवी में बहुत ही सेक्सी फिल्म चल रही थी। फिल्म के अंदर हीरो और हेरोइन एक दूसरे को चूमने लगे थे और मेरी बेहेन यह बहुत ही गौर से देख रही थी। 

जीजा ने तोड़ी साली की सील और मारी चुत रातभर

बेहेन भी थी हवस से भरी 

मै भी अपनी बेहेन को बड़ी ही शांति से देख रहा था की कैसे वह सेक्स करने में दिलचस्पी सी दिखा रही है। कुछ देर तक ऐसा ही चलता रहा और मेरी बेहेन बहुत ही मजे से सेक्स सीन को देखती रही। 

अब जैसे ही वह सीन ख़तम हुआ मेरी बेहेन ने मुझे देखा और हसने लगी। मेने अपनी बेहेन से पूछा की वह क्यों है रही है और उसने मुझे बताया की वह इसलिए हस रही है क्युकी उसने कभी किसी को भी किस नहीं किआ है और उसे यह सब देखने में बहुत हसी आती है। 

अब मेने अपनी बेहेन से कहा की उसमे हसने की कोई भी बात नहीं है और आज कल के जमाने में यह किस करना बहुत ही आम बात है जो हर कोई करता है अपनी जिंदगी में। 

 अब मेरी बेहेन ने मुझे चोकते हुए पूछा की क्या मेने कभी किसी को किस किआ है ? अब मेने थोड़ा सा सोचा और उसे हां में जवाब देते हुए कहा की हां मेने एक लड़की की चूमा है। 

मेरी बेहेन ने अब अगला सवाल किआ की क्या किस करने में सच में मजा आता है ? अब मै खुद भी बहुत अजीब महसूस करने लगा क्युकी मुझे समझ नहीं आ रहा था की मै उसे क्या जवाब दू। 

मेने अपनी बेहेन से अब कहा की यह एहसास ना ही मजे वाला होता है और ना ही दर्द वाला और यह एक अलग ही तरह का एहसास होता है। मेरी बेहेन अब थोड़ा परेशान होते गयी और मुझसे पूछने लग की अगर ऐसा है तो यह फिल्मो में सब इतने प्यार से किस क्यों करते है। 

आंटी को ठंडी में गरम करके करि जोरदार चुदाई 

मेरी बेहेन के करके देखि मुझे किस 

अब मेने उसे कहा की यह भी प्यार करने के एक तरीका होता है जो की हर कोई करता है और प्यार करने में तो हर किसी को अच्छा ही लगता है। अब इससे पहले की मेरी बेहेन कोई और सवाल करती मेने उसे रोक दिआ। 

मेने उसे कहा की वह इस बारे में इतनी उतावली क्यों हो रही है। अब मेरी बेहेन ने मुझे कहा की उसे भी यह एहसास महसूस करके देखना है पर उसे आजतक ऐसा कोई मिला ही नहीं है जिसे वह किस कर सके। 

अब मेरी बेहेन ने कहा की क्या वह मुझे चुम कर देख सकती है की किस करने के बाद केसा मेहसूस होता है। मेने कुछ देर सोचा और मेरे अंदर भी अब हवस पैदा हो गयी थी और मेने अब अपनी बेहेन को हां में जवाब दे दिआ। 

मेरी बेहेन अब हसने लगी और वह बहुत शर्मा भी रही थी और मुझे बोल रही थी वह बात हम दोनों किसी को भी नहीं  कहेगे की हमने किस करि है। मेने भी उसकी हां में हां कर दी और वह मेरे पास आके बैठ गयी। 

अब मेरी बेहेन ने अपने होठ मेरे पास किये और मेरे सर को पकड़ कर हम दोनों के होठो को मिला दिआ। यह शायद मेरी बेहेन का सच में  पहला किस था और वह होठ मिलाने के बाद उन्हें चूस नहीं रही थी। 

 अब मेने पहल करते हुए अपने होठो से उसके होठो को चूसना शुरू कर दिआ और वह भी मेरे होठो से रसपान का मजा धीरे धीरे लेने लग गयी और उसे अब किस करते हुए 2 मिनट हो चुके थे और वह मुझसे दूर हो गयी। 

भाई बेहेन की अनोखी चुदाई का किस्सा – 2 

Leave a Comment