भाई बेहेन और एग्ज़ाम से पहले चुदाई – 1

यह बहन की चुदाई की कहानी तब की है जब मैंने उसे एग्जाम के लिए दूसरे शहर ले गया। वहां मैंने अपनी बहन का जो रूप देखा, मैं हैरान रह गया। क्या देखा था मैंने? दोस्तो, मेरा नाम अभि है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ। 

मेरी बहन का नाम अंतरा है। वो दिखने में सांवली है। उसकी हाईट ज्यादा तो नहीं है पर उसके मम्मे बड़े बड़े हैं। उसके मम्मों को देख कर मैं खुद रोज उसके नाम की मुठ मारता हूँ। अंतरा के एग्जाम चल रहे थे तो उसे परीक्षा दिलवाने लेकर मुझे जाना था। 

कुल 7 दिनों के एग्जाम थे और परीक्षा केंद्र घर से दूर होने के कारण हम लोगों ने वहीं एक रूम किराये पर ले लिया था। रूम में पलंग आदि नहीं था, नीचे ही सोने की व्यवस्था थी। रूम के बगल वाले रूम में भी 4 लोग एग्जाम देने आए हुए थे। 

वे चारों 20-21 साल के ही रहे होंगे। पहला दिन का एग्जाम हो गया और उसी शाम तक उन चारों लड़कों से मेरी दोस्ती हो गई। चारों लड़कों ने कोई सैटिंग की हुई थी, जिसके कारण उनको एग्जाम में आने वाले प्रश्न उत्तर पहले ही मिल जाते थे।

कॉलेज की लड़की से चुदाई का सौदा – 1 

छोटी को देख कर दंग रह गया

वो सब अपने एग्जाम सही करके आते थे। दूसरा दिन भी निकल गया। शाम को उन चारों में से एक ने बताया कि मैं आपको प्रश्न और उत्तर दे दूंगा। ये सुन कर मेरी उन लोगों से और भी अच्छी दोस्ती हो गई। वो मुझे भैया बुलाते थे और अंतरा को नाम से बुलाते थे। 

अंतरा उन सबमें छोटी थी और अब उन चारों लड़कों के साथ घुल मिल गई थी। शाम को चारों बैठ कर अंतरा के साथ पढ़ते थे। आखिरी एग्जाम से एक दिन पहले की बात है। उस दिन रविवार था, इसलिए छुट्टी थी। सब लोग घर पर ही थे। 

वे चारों मेरे रूम में आकर अंतरा के साथ पढ़ाई करने लगे। उन लोगों को पढ़ता देख कर मैं अंतरा को बोल कर निकल गया कि मैं मूवी देखने जा रहा हूँ। बस 3 से 4 घंटे में आ जाऊंगा। तुम पढ़ाई करके आराम कर लेना। यह कह कर मैं चला गया। 

पर मुझे टिकट नहीं मिली और मैं कमरे के लिए वापस निकल आया। जब मैं कमरे पर वापस आया, तो घर का दरवाजा बाहर से बंद था। मैं अन्दर गया, तो अंतरा नहीं थी। मैंने सोचा बाथरूम गई होगी या पढ़ने गई होगी। मैं आराम करने लगा। 

जब 15-20 मिनट हो गए, अंतरा नहीं आई तो मैं समझ गया कि उन लड़कों के साथ पढ़ाई कर रही होगी। मैं उठकर अंतरा को देखने चला गया। जब मैं लड़कों के पास गया, तो दरवाजा अन्दर से बंद था, मुझे शक हुआ और मैं अन्दर झांकने की कोशिश करने लगा। 

कॉलेज की लड़की से चुदाई का सौदा – 2

सबका लुंड लेके खुश थी बेहेन 

पर मुझे कोई उपाय नजर नहीं आ रहा था। तब मुझे याद आया कि बाथरूम से उनका रूम नजर आता है। मैं सीधा बाथरूम में घुस गया और बाथरूम के एक छेद से अन्दर देखने लगा। 

उस छेद से सब कुछ साफ नजर आ रहा था क्योंकि बाथरूम का वो छेद थोड़ा बड़ा था। जब मैंने अन्दर देखा तो सामने बेड था। बेड पर तीन लड़के पूरी तरह नंगे बैठे थे और अपने अपने लंड सहला रहे थे, पर अंतरा कहीं नजर नहीं आ रही थी। 

मैं मोबाइल से उनकी रिकॉर्डिंग करने लगा। तभी मेरी नजर लड़कों पर पड़ी, जो एक तरफ देखे जा रहे थे। मैंने भी उसी तरफ देखा, तो मैं दंग रह गया। मेरी अपनी सगी बहन अंतरा पूरी नंगी थी और टेबल पर अपनी बुर चुदाई करवा रही थी। 

जो लड़का अंतरा को चोद रहा था, उसका नाम सोनू था। वो अंतरा की चूची को अपने मुँह में रख कर एक बच्चे की तरह चूस रहा था। वो एक चूचे को चूस रहा था और एक हाथ से उसके दूसरे चूचे को दबाने में लगा था। 

उसने अंतरा का एक दूध अपने मुँह में पूरा भर लिया था और जबरदस्त तरीके से चुसाई करने में लगा था। तभी मैंने देखा कि वो अपने दूसरे हाथ को अंतरा की चूत पर ले गया और अपनी उंगली उसकी बुर में घुसा दी। 

उस लड़के की उंगली गीली हो गई। उसने अपनी उंगली को निकाल कर देखा कि मेरी बहन खुद ही चुदाई को उतावली हो रही थी। फिर मैंने देखा कि अंतरा ने अपनी आंखें बंद की हुई थीं। 

सोनू ने अंतरा की बुर के दाने को मसलना चालू कर दिया। अंतरा के मुँह से मस्त सिसकारियां निकलने लगीं। लड़के ने उसे उल्टी तरफ घुमा कर उसे घुटनों के बल पर कर दिया, वो अंतरा को डॉगी स्टाइल में चोदना चाहता था।

Leave a Comment