बुझाई भाभी की भोसड़ी की आग और चुत को चोदा

भाभी को घर आये हुए अभी बस 1 ही महीना हुआ था और भाभी अभी से मुझ से बहुत मजाक करने लगी थी। भाभी दिखने में भी बहुत सेक्सी और अच्छी थी जिसे देख किसी का भी लंड खड़ा हो जाये। 

भाभी को यु तो मै गन्दी नजरो  था पर भाभी अब मुझ से ज्यादा मजाक करने लग गयी थी। एक बार की बात है मै नाहा कर बहार आया था और अचानक भाभी ने मेरे सामने आते हुए मेरा तोलिआ कमर से निकाल लिआ। 

भाभी के मजाक अब बढ़ते ही जा रहे थे और भाभी मुझ से अब गन्दी बाते भी भी करने लगी थी पर  इतने सब के बाद भी भाभी की चुदाई का सपना मेरी आँखों में नहीं आया। पर अब यह सब मुझ से सेहेन नहीं हो रहा था। 

भाभी ने आज मैक्सी पहनी हुई थी और मजाक काबदला लेने के लिए जैसे ही भाभी पानी भरने के लिए झुकी मेने उनकी मैक्सी उम्र कर दी जिससे उनकी गोरी और चिकनी गांड मेरे सामने आ गयी। 

भाभी की गांड देख मेरा लंड को पूरा टन्न हो गया था और अब लंड खड़ा होने के बाद चुदाई के सपने मुझे कैसे ना आते। मेने भी भाभी के नाम की उस दिन अच्छे से मुठ मारी और अपने लंड को शांत कर लिआ। 

भाभी अब समझ चुकी थी की यह मजाक अब एक जंग बन गया है और जब जब हम दोनों अकेले होते भाभी और मै काफी हस्ते और मजाक करते। ऐसे ही मजाक के नाम पर आज भाभी ने मेरे लंड को छोटा बोल दिआ और मुझे चिढ़ाने लगी। 

प्यार का बहाना बनाके लड़के ने मारी लड़की की चुत

भाभी के हाथ में दे दिआ अपना लंड 

मुझे इस बार से बहुत गुस्सा आ गया  था और मेने कुछ ही देर बाद भाभी को बोल दिआ की जीता वह समझती है मेरा लंड उतना भी छोटा नहीं है। यह सुन भाभी खूब हसने लगी जिससे मेरा गुस्सा बढ़ गया। 

अब मेने भाभी से कहा की मेरा लंड वह हाथ में ले लेंगी तो कभी उसका नाप भूल नहीं पाएंगी। यह सुन भाभी चुप हो गयी और कहने लगी की तो लाओ दिखाओ हमको भी तुम्हारा नाप। 

अब मै भी तब गुस्से में था और मेने अपना लंड ऊपर से ही भाभी के हाथ में दे दिआ और भाभी ने मेरा लड़ बहुत ही आराम से पकड़ के उसे अच्छे से अपने हाथो से टटोला। 

भाभी ने मेरा लंड हाथ में लेने के बाद उसे सहलाना भी शुरु कर दिआ था जिससे वह और भी ज्यादा बड़ा हो गया था और अब भाभी ने मुझे कहा की मेरा लंड को सच में बड़ा है पर क्या वह काम भी करता है। 

अब में समझ चूका था की भाभी को चुदाई करवानी है और इसी वजह से भाभी मेरे इतना करीब आयी है। भाभी मेरे लंड को अभी भी हिला रही थी और अब भाभी ने मेरे लंड को अच्छे से खड़ा करना शुरू कर दिआ। 

भाभी ने मेरे लड़ को पजामे से बहार निकाला और अब उसे निचे बैठकर अपने मुह्ह में लिआ और चूसना शुरू हो गयी। भाभी अपनी जीभ से मेरे लंड को अच्छे से चूस रह थी जिससे मेरा लंड बहुत ही ज्यादा बड़ा और सख्त हो गया। 

जीजा ने साली की गांड फाड़ करि चुदाई

भाभी की चुत को मार मार बना दिआ भोसड़ी

अब भाभी की चुदाई का समय आ गया था और मै भाभी को लेके ऊपर चला गया। भाभी ने कुछ देर मेरा लंड वापस से चूसा और लंड खड़ा होने के बाद अब मेने भाभी को बिस्तर पर लिटा दिआ। 

भाभी की मैक्सी ऊपर कर मेने भाभी की पैंटी को निकाल दिआ जिससे भाभी की चुत दिखने लगी जिस पर छोटे छोटे बाल भी थे। अब मेने अपना लंड भाभी की चुटकी छेद में लगाया और एक ही बार में लंड अंदर डाल दिआ। 

अब मेने भाभी की चुत को अच्छे से पेलना शुरू कर दिआ जिससे भाभी आह्ह्ह्हह अह्ह्ह्हह करना शुरू हो गयी और भाभी की चुत से पानी भी निकलने लगा था। 

भाभी करहाते हुए अपनी चुत की चुदाई का मजा ले रही थी और मै भी जोर जोर चुदाई किये जा रहा था। भाभी अपने बूब्स पकड़ते हुए ऊपर निचे होते हुए अपनी चुत में मेरे लंड का मजा उठा रही थी। 

और ऐसे ही चुदाई करते हुए हम दोनों हवस से पागल हो गए थे। आज भाभी बहुत खुश थी और भाभी की चुत की भोसड़ी भी बन गयी थी और कुछ ही देर बाद अब मेरे लंड से भी तेज वीर्य की धार सीधा भाभी के पेट पर निकल गयी। 

Leave a Comment