भाभी को चोदकर बनाया माँ – 2

वो भी अपनी नाइटी उतार कर पूरी नंगी हो गईं। दोस्तो, क्या मस्त बूब्स और बुर थी आह शब्दों में कैसे बताऊं। अगर वो पास में होती, तो उनको पकड़ कर चोद डालता। लेकिन क्या करूं, भाभी वीडियो कॉल पर थीं। 

फिर वो बोलीं- आप भी कपड़े उतार कर मुझे अपना लंड दिखाओ। मैं भी नंगा हो गया और हम दोनों एक दूसरे को कुछ देर तक देखते रहे। वो मेरा लंड देख रही थीं और अपने होंठों को काट रही थी। फिर वो बोलीं कि उत्तम आपका लंडा बहुत लम्बा और मोटा है, मेरी छोटी सी चुत में कैसे जाएगा? 

मैंने कहा कि बुर होती ही है लंड घुसाने के लिए। भाभी बोलीं- हां ये आपने सही बोला उत्तम … अब तो मैं बस जल्द से जल्द इसे अपनी चुत में लेने को मचल रही हूँ। मैंने कहा- हां भाभी, मुझे भी आपकी चुदाई करने का बड़ा मन है। 

उन्होंने मुझे ‘आई लव यू …’ बोला, तो मैंने भी ‘आई लव यू टू …’ बोला। तब उन्होंने मुझे एक किस दिया तो मैंने भी किस दिया और एक दूसरे को देखने लगे। फिर मैं बोला कि आगे कुछ और करना है या सिर्फ देखना है। 

भाभी शर्मा गईं और बोलीं कि उत्तम आपका लंड मुझे चुत में चाहिए। मैंने बोला कि मिलूंगा तो आपको चुत में अपना लंड पेल दूंगा। वो बोलीं कि मुझे बहुत ज्यादा बार चाहिए। मैंने बोला कि आपको जितनी बार चाहिए … उतना चोद दूंगा। 

जब तक आप मना नहीं करेंगी, तब तक आपकी बुर में मेरा लंड घुसा रहेगा। वो बोलीं- ओके। फिर भाभी बोलीं- उत्तम आप अपना लंड हिलाओ न! मैंने लंड हिलाना चालू कर दिया और भाभी से कहा- आप अपनी चूची को दबाइए और अपनी बुर में उंगली डाल कर बुर को चोदें। 

भाभी के मोटे बूब्स और आहो का प्यार

वीडियो कॉल पर की भाभी से किआ सेक्स 

वो एक हाथ से अपने चूचे को मसलने लगीं और दूसरे हाथ से अपनी बुर की चुदाई करने लगीं। भाभी और मैं एक दूसरे को देख रहे थे और अपना अपना काम कर रहे थे। दस मिनट के बाद हम दोनों झड़ गए और कुछ देर एक दूसरे को देखते रहे। 

फिर भाभी ने कहा कि बहुत दिनों के बाद इतना झड़ी हूँ, अब रहा नहीं जाता। पांच दिन के बाद मेरे पति आउट ऑफ़ स्टेशन जा रहे हैं, उसके बाद तुमको मुझे खुश कर देना है। मैंने बोला कि ओके। भाभी बोलीं कि मेरे लंड को संभाल कर और तैयार करके रखना। 

मैं बोला- ओके भाभी। हम दोनों ने एक दूसरे को किस करके बाय कहा और सोने के लिए चल दिए। बेडरूम में आने बाद मुझे नींद नहीं आ रही थी। तभी 15 मिनट के बाद फिर से भाभी का वीडियो कॉल आया। मैंने पूछा- क्या हुआ? 

वो बोलीं- मुझे अपनी चुत में फिर से खुजली हो रही है। आप लंड दिखाओ। मैं बोला- ओके। मैंने अपना लंड उनको दिखाया। तो बोलीं कि इसे हिलाओ। मैं हिलाने लगा, फिर वो भी अपने चूची और बुर में उंगली करने लगीं। मैंने पूछा कि पति कहां है? भाभी बोलीं कि साला सो रहा है। 

उन्होंने अपने पति को दिखाया तो वो सो रहा था। भाभी बेड पर बिल्कुल नंगी पड़ी थीं। वो चूची को दबा रही थीं और बुर में उंगली डाल कर बुर को चोद रही थीं। इसी के साथ में उनके मुँह से आवाज़ भी आ रही थी। 

वो कह रही थीं- आंह उत्तम … अपने लंड से मेरी बुर को चोदिए न! मैं भी कह रहा था- मुझे भी आपकी बुर चाहिए। वो कहे जा रही थीं- उत्तम मेरी बुर में लंड घुसाइए और चोदो मुझे … ये सब आवाजें हम दोनों की बढ़ती हुई कामोत्तेजना के चलते निकल रही थीं। 

बीवी को छोड़ कर पड़ोसन से प्यार – 1

भाभी ने बुला लिआ घर चुदाई के लिए 

इसी तरह से अपने हाथों से अपने आप को संतुष्ट करते हुए हम दोनों साथ में एक साथ झड़ गए। फोन सेक्स में बहुत मज़ा आया। हम दोनों रात को 3 बजे तक वीडियो कॉल पर सेक्स करते रहे और उसके बाद हम दोनों सो गए। जब मैं उठा तो भाभी के मैसेज में 5 नंगी फोटो आई थीं। 

वो मुझसे मेरे भी फोटो मांग रही थीं। तो मैंने भी अपनी नंगी फोटो सेंड कर दी। इस तरह से रोज रात को एक दूसरे के साथ वीडियो कॉल पर सेक्स करने लगे। फिर भाभी बोलीं- उत्तम तुम गाड़ी पकड़ कर मुझे चोदने के लिए आ जाओ। 

कल मेरा पति आउट ऑफ़ स्टेशन जा रहा है। मैंने ओके बोला। भाभी ने कहा- जितने दिन मेऱा पति बाहर रहेगा, उतने दिन उत्तम तुमको मेरी चूत की चुदाई करनी होगी। मैंने बोला- ओके मेरी जान, ये बताओ कि आपके पति कितने दिनों के लिए जा रहे हैं? 

भाभी बोलीं- वो 20 दिन के लिए जा रहा है … तुमको इन बीस दिनों तक मेरी चूत चोदना है। मैंने बोला- ओके मेरी जान। भाभी रांची से थीं। मैं अपनी जान की बुर को चोदने के लिए अपने घर से निकल गया। रांची स्टेशन पहुंच कर मैंने भाभी को कॉल किया तो वो मुझे लेने के लिए आ गईं। 

मैं तो उनको देखते ही रह गया। वो इठला कर बोलीं- सिर्फ देखोगे ही या और कुछ भी करोगे। उन्होंने बांहें फैला दीं और मुझे गले लगा लिया। मैंने उनको कस कर पकड़ लिया और चूमने लगा। पांच मिनट बाद हम दोनों अलग हुए और गाड़ी में बैठ कर उनके घर की तरफ चल दिए। 

मैं रास्ते भर उनकी चूचियों को दबाते हुए और किस करते हुए ही गया। वो कुछ नहीं बोलीं बल्कि उन्होंने भी मेरा पूरा साथ दिया। मैं बोला- आप बहुत हॉट और सेक्सी माल हो। वो- तुम तो मुझसे भी ज्यादा सेक्सी और हॉट मर्द हो। 

मैंने उनको किस किया और उनके घर पर आ गए। अन्दर जाकर मैंने उनको पकड़ कर दस मिनट तक किस और हग किया, साथ में उनकी चूची और बुर को भी दबाया। हम दोनों साथ में चाय पी। उसके बाद मैं नहाकर आया और खाना खाया। 

अब हम दोनों बेडरूम में आ गए; कुछ देर तक बात की और किस करने लगे। मैंने उनकी चूची को दबाया और बुर में उंगली की। भाभी नंगी हो गईं, तो मैं भी नंगा हो गया। 

मैंने उनसे चुदाई के लिए कहा तो वो बोलीं- अभी सेक्स नहीं, रात को आपके लिए एक सरप्राइज है, तब तक आप आराम कीजिए। मैं और भाभी दोनों एक दूसरे को बांहों में पकड़ कर सो गए। दोस्तो, ये देसी भाभी सेक्स कहानी बहुत लम्बी है। इसके अगले पार्ट में लिखूंगा कि भाभी ने क्या सरप्राइज रखी थी। 

Leave a Comment