भाई ने दिआ मेरी गीली चुत में लंड – 1

आप सभा का हमारी वेबसाइट पर स्वागत है जहा पर आपको हम एक से एक सेक्स की कहानिआ देने के लिए आते है। तो बिना रुके चलिए शुरू करते है आज का किस्सा जो की आपके लंड और रोम रोम को खड़ा कर देगा। 

मेरा नाम रीना है और मेरी उम्र अभी 21  साल की हो गयी है। यु तो मै बहुत ही शरीफ लड़की हु पर बढ़ती उम्र के चलते हुए मेरी हवस में भी अब उतार चढ़ाव आने लगे थे। 

अपने बूब्स को दबा दबा के मेने उन्हें काफी बड़ा कर लिआ था और अब मुझे हर समय बस चुदाई करवाने की तड़प होने लगी थी। अच्छे घर की होने की वजह से मै किसी लड़के से बात भी नहीं करती थी। 

पर घर में मेरा एक भाई भी था जो की दिखने में काफी सुन्दर था। भाई को देख कर मुझे उसपे शुरू से ही काफी प्यार आता था पर भाई होने की वजह से मै उसे ज्यादा कुछ कह भी नहीं पाती थी। 

पर अब मेरी हवस इतनी बढ़ चुकी थी की मुझे कई बार अपनी चुत को भी मसलना पड़ता था। मेरी चुत की खाल भी थोड़ी सी ढीली हो गयी थी जिसको में अपनी उंगलिओ से मसल कर अपने आप को शांत कर लेती थी। 

पर अब मेरा दिल उंगलिओ से नहीं मानता था और मुझे अब चुदाई करवानी ही थी। अब बहुत देर सोचने के बाद मेने थान लिआ की मुझे अपने भाई से ही अपनी चुत की सील को तुड़वाना पड़ेगा। 

भाभी ने दिया अपनी चुत की चुदाई का ऑफर

भाई को भी मना लिआ अपने काम में 

अब मेने अपने भाई से नजदीकी बढ़ाना शुरू करी पर एक भाई होने के नाते वह शारीरिक तोर पर मुझसे दूर ही रहता था और मुझसे वह ज्यादा बात भी नहीं करता था। 

पर अब मेने रोज रोज अपने भाई के साथ समय निकलने के लिए बहाने ढूढ़ने शुरू कर दिए। जब भी वह ऊपर मेरे कमरे में आता मै उसे किसी ना किसी बहाने से अपने पास बुला लेती थी और गरम करने के तरीके देखती थी। 

पर काफी समय होने के बाद भी मै अपने भाई पर काबू नहीं कर पा रही थी। पर अब काफी दिनों बाद मुझे अपने भाई पर काबू करने के लिए एक मौका दिखाई दिआ। 

अब कुछ दिन के लिए मम्मी और पापा दोनों ही गांव जाने वाले थे और कुछ रातो के लिए भाई और मै घर पर अकेले रहने वाले थे। अब मेने सोच लिआ था की इस बार यह मौका मै अपने हाथ से जाने नहीं दूंगी। 

आज मंम्मी और पापा दोनों गांव जा चुके थे और हम दोनों घर पर एकेले थे। अब मेने अपने और भाई के लिए खाना बनाया और खाना खाने के बाद हम दोनों टीवी देखने लग गए। 

टीवी देखते देखते ही मेरा भाई अब सो चूका था और मुझे उसे देख कर अब बहुत ज्यादा हवस चढ़ रही थी। मेरी नजर उसके लंड से कही और जा ही नहीं रही थी और मेरे दिमाग में बस यह ही चल रहा था की मेरे भाई का लंड कितना मोटा होगा। 

साली आधी घरवाली बनाकर पूरी रात चोदा

भाई का लंड कर लिआ खड़ा 

अब मेरा भाई सो चूका था और मेने सोच लिआ था की मुझे अपने भाई को अब गरम कैसे करना है। मेने अब अपना एक हाथ अपने भाई के लंड के पास कर दिआ और धीरे धीरे भाई के लंड पर रख दिआ। 

अब थोड़ा सा हाथ आगे करते हुए मेने अपने हाथ से भाई के लंड को सहलाना चालू कर दिआ और धीरे धीरे मेरे भाई के लंड में तनाव आने लग गया। अब मेरे हाथ में मेरे भाई का लंड आ गया था और वह अभी भी सो ही रहा था। 

मेने अब अपने भाई के लंड को हिलाना चालू कर दिआ और उसका लंड अब बढ़ता ही जा रहा था ओर मेरी हवस भी काफी बढ़ गयी थी। मुझे अब बस यही दिमाग में आ रहा था की मेरा भाई मेरी चुदाई करते हुए मुझे कितनी बुरी तरह से चोदेगा। 

 अब मै जोश में आ गयी थी और मेने अपने भाई का लंड जोर जोर से हिलाने लग गई। मेरे भाई की आँख एक दम से ही खुल गयी और मेरा भाई मुझे ऐसे देख कर चौक गया क्युकी लंड मेरे हाथ में था और जिसे मै हिलाये जा रही थी। 

अब मेरे भाई ने चोकते हुए मुझे कहा की मै यह क्या कर रही हु जिसका मेने जवाब दिआ की उसका लंड नींद में काफी बड़ा हो गया जिसे मै अपने हाथ से मसल कर  निचे कर रही हु। 

भाई ने दिआ मेरी गीली चुत में लंड – 2 

Leave a Comment