बॉस को दिआ अपना लंड तोहफे में और किये मजे

इस ऑफिस में काम करते हुए आज 1 साल से भी ज्यादा हो चूका था और अब मुझे किसी भी तरीके से अपनी सैलरी बड़वानी थी। किस्मत से हमारी बोस एक औरत थी जिससे मेरी अच्छी बना करती थी। 

बॉस और मै कभी कभी बाते किआ करते थे जिसमे वह अपने घर की कहाणीअ सुनाया करती थी। बॉस की शादी एक अमीर आदमी से हो राखी थी जो देश के बाहर ही रहता था और बॉस के यह कंपनी गिफ्ट में दे चूका था। 

2 दिन बाद अब बॉस का जन्मदिन था और सब लोग इसी सोच में पड़े हुए थे की वह बॉस को क्या तोहफा देंगे। मै भी बहुत सोच चूका था पर इतनी अमर औरत के लिए कोई छोटी चीज शोभा नहीं देती।

अब बॉस का जन्मदिन आ गया था और आज मेरे पास कोई भी तोहफा नहीं था जो मै बॉस को दे स्कू पर क्युकी मेरी बॉस से अच्छी बातचीत थी इसलिए वह मुझ पर गुस्सा नहीं हुई। 

बॉस का केक कटाया गया और सभी ने ख़ुशी के साथ बॉस का जन्मदिन मनाया पर अब जैसे ही मै बॉस के कमरे में गया बॉस ने मुझ से उनके गिफ्ट के बारे में पूछ लिआ और मै चुप हो गया। 

बॉस मुझे ही देख रही थी और मै अब अच्छी तरह से फास चूका था। मेने बॉस से माफ़ी मांगी और खा की मै उनका गिफ्ट सोच नहीं पाया क्युकी इतनी अमीर है और उनके पास जरुरत की हर चीज मौजूद है। 

बोस हसी और उन्होंने मुझे कहा की उन्हें भी किसी चीज की जरूरत है जो उन्हें आजकल नहीं मिल रहा है और उसे पैसे से खरीदने में भी बहुत कुछ गवाना पड़ता है। 

चोद चोद कर फाड़ दी अपनी बेहेन की गुलाबी चुत

बॉस ने माँगा चरमसुख का मजा और मै हो गया हैरान

मेने अपनी बॉस से पूछा की वह ऐसी कोण सी चीज है। बॉस ने मुझे कहा की उन्हें कई महीनो से चरमसुख का मजा नहीं मिला है जो उन्हें एक मर्द से ही मिल सकता है और ऑफिस में उनका चाहिता भी सिर्फ मै ही हु। 

मै काफी चौक गया था और बॉस हसी और मुझे कहा की मै अगर उन्हें यह तोहफा दे स्कू तो वह मेरी सैलरी भी बढ़ाने की सोच सकती है। अब मुझे यह बहुत अच्छा मौका मिल  चूका था। 

मुझे बॉस की चुदाई के साथ साथ पैसे भी मिल रहे थे जो की मै शुरू से चाहता था। मेने बॉस को कहा की यह तोहफा मै उन्हें देने की पूरी कोशिश करूँगा और बॉस ने मुझे अब शाम को उन घर आने को कहा। 

अब घर जाने के बाद मेने जल्दी से शावर लिआ और बॉस के घर की तरफ चला गया। बॉस ने मेरे लिए घर का दरवाजा खोला तो अंदर कोई भी नहीं था। बॉस का घर भी अछि जगह था जहा नजारे बहुत सुन्दर से थे। 

अब बॉस ने मुझे पूछा की क्या में उन्हें गिफ्ट देने के लिए तैयार हु? मेने बॉस को हां कहा और अब बॉस मेरी गोद में आकर बैठ गयी और मुझे चूमने लगी। बॉस और मै एक दूसरे के होठो को अच्छे से चूस रहे थे और मजे कर रहे थे। 

भाभी नहीं थी भइया से खुश इसलिए माँगा मेरे लंड का सहारा 

बॉस को दिआ चरमसुख और पायी अछि नौकरी और पैसा

अब बॉस ने धीरे धीरे अपने कपडे भी निकाल दिए और ऊपर से नंगी हो गयी जिसके बाद मेने बॉस के बूब्स को अपने होठो से चूसना चालू कर दिआ।  बॉस के दोनों निपाल मै अच्छे से चूसने लगा और बॉस मादक हो गयी। 

अब बॉस ने मेरी भी शर्ट निकाल दी और खुद ही अपने सारे कपडे निकाल दिए। बॉस लाल रंग की पैंटी में मेरी गोद में बेथ मुझे चुम रही थी और मुझे प्यार कर रही थी। अब बॉस मुझे चूमती हुई मेरे लंड की तरफ गयी और उसे बाहर निकाल लिआ। 

बॉस ने मेरा लंड अपने मुह्ह में लिआ और उसकी चुसाई अच्छे से की जिससे वह पूरा खड़ा हो गया। अब बॉस ने अपनी पैंटी सरकायी और मेरे लंड को अपनी चुत में घुसा लिआ। 

बॉस अब मेरी गोद में उछलते हुए मेरा लंड अपनी चुत में ले रही थी और चुदाई करवा रही थी। अब काफी देर बाद बॉस तक गयी थी और मेने बॉस को बिस्तर पर लिटाया और आगे से उनकी चुदाई करने लगा। 

बॉस की चुत से सफ़ेद पानी निकल रहा था पर मेने चुदाई करना जारी रखा और बॉस की अब आहे आना शुरू हो गयी और बॉस की चुत से एक ही झटके में पानी की धार निकल गयी और बॉस को चरमसुख मिल गया। 

Leave a Comment