बुआ आयी चुदाई करवाने के लिए

सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार और आपका इस नयी कहानी में फिर से स्वागत है। अगर अपने अभी तक हमारी वेबसाइट ककी बाकि कहाणीआ नहीं पढ़ी है तो उन्हें भी जल्दी से पढ़िए और हमारे साथ अपने गरम ख्याल साझा करिये। 

तो बात कुछ यह थी की मेरे पापा की कई मुह्ह बोली बहने थी जो की पापा को राखी बांधने के लिए घर आती रहती थी। सभी को मै बुआ कहकर ही बुलाता था क्युकी वह जो भी हो पापा की बहने ही थी। 

उन्ही में से एक बुआ का नाम निरमा था जो की दिखने में बहुत में ज्यादा सेक्सी थी। बुआ को देख कर मुझे कई बार हवस चढ़ जाती थी क्युकी उनकी गांड बहुत ही ज्यादा मोटी थी। 

बुआ के बूब्स बहुत ज्यादा दीखते रहते थे क्युकी वह जो भी कपडे पहनती थी उनका गला बहुत ही ज्यादा बड़ा रहता था। आज भी कुछ ऐसा  ही हुआ था और बुआ पापा से मिलने के लिए आयी थी। 

बुआए ने आज जींस और एक टीशर्ट पहनी थी जिसमे उनकी गांड और बूब्स दोनों ही काफी मस्त दिख रहे थे। बुआ को ऐसे देख कर मै पहले ही हवस से भर गया था और उनके साथ सेक्स करने के बारे में सोचने लगा था। 

अब बुआ के बारे में सोचते हुए मै अपने कमरे में चला गया और बुआ के बारे में सोच कर अपने लंड को प्यार से हिलाने लग गया। काफी देर लंड हिलाने के बाद मेने देखा की मेरे पीछे कोई तो खड़ा है। 

जीजा ने तोड़ी साली की सील और मारी चुत रातभर

बुआ भी हो गयी मेरे मोटे लंड की दीवानी 

मुझे जैसे ही यह महसूस हुआ मेरी डर के मारे गांड फट गयी थी और मेने अब जल्दी से अपने लंड को पजामे में  किआ और चुप चाप पीछे मुड़के देखा। अब मेने देखा की मेरे पीछे बुआ खड़ी हुई है जिससे में काफी चौक गया। 

अब बुआ ने मुझे कहा की यह मै क्या कर रहा था। मेने अब बुआ को चोकते हुए कहा की वह मै तो यह सब ऐसे ही कर रहा था और वह यहाँ किस काम से आयी है और वो भी मेरे कमरे में। 

बुआ ने कहा की वह ख़ास मुझसे मिलने आयी है। अब मेने बुआ से कहा की अगर ऐसा है तो वह बिस्तर पर बैठ जाए। बुआ ने अब मुझे कहा की मै जो भी कर रहा था वह उन्होंने काफी देर तक देखा है। 

मै बहुत डर रहा था की वह कही कुछ भी पापा से ना बोल दे जिससे मेरी बहुत ही ज्यादा बेज़्ज़ती होती और मुझे काफी मार भी पड़ जाती। अब बुआ ने मेरे लंड की तरफ इशारा किआ और कहा की मेरा मुनमुन भी उन्होंने देखा है की वह बहुत बड़ा है। 

बुआ ने अब मुझे अपनी तरफ बुलाया और मेरे लंड को अपने हाथ से पकड़ लिआ और कहा की मै उसे बाहर निकालू जिससे वह उसे वापस से देख सके। ऐसा कहने के बाद अब बुआ ने मेरे लंड को बाहर निकल अपने हाथ में ले लिआ। 

खुशबूदार आंटी की मिली चुत ठुकाई – 2

बुआ ने लंड से करवाई पिलाई 

बुआ ने मुझे  कहा यह तो पहले से बहुत ज्यादा छोटा  हो गया है और बुआ ने कहा की लाओ में इसे वापस पहले जैसा कर देती हु। ऐसा कहने के बाद अब बुआ मेरे लंड को हिलाने लग गयी। 

मेरा लंड अब कुछ ही देर में वापस से खड़ा हो गया था जिसे बुआ जोर जोर से हिलाते हुए मजे ले रही थी। मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया था और अब मेरे लंड को देखते हुए बुआ निचे बैठ गयी और मै समझ गया की बुआ  क्या चाहती है। 

 बुआ अब मेरे लंड को मुह्ह में लेके चूस रही रही थी जिससे मुझे काफी मजा आ रहा था और मै भी बुआ को लंड चूसने में मदद कर रहा था। काफी देर तक लंड चूसने के बाद अब बुआ रुक गयी। 

वह उठी और अब अपने पजामी को खोलते हुये उन्होंने निचे कर लिआ। बुआ ने अब मुझे बुलाया और उलटी खड़ी हो गयी। मेने भी जल्दी से अपना लंड उनकी चुत में पीछे से सेट कर दिआ और अंदर पेल दिआ। 

अब मेने जोरो की चुदाई करनी शुरू कर दी और बुआ दोनों हाथ अपनी दीवार पे रखती हुई चुदाई करवाने लग गई। मै भी  मजे से अपना लंड बुआ की चुत अंदर बाहर कर रहा था और बुआ को चोद रहा था। 

काफी देर बाद अब मेरे लंड से मॉल आने ही आने वाला था। अब मेने तेजी से चुत की चुदाई करना शुरू कर दिआ और कुछ ही देर में जैसे ही मेरे लंड से मॉल निकलने लगा मेने अपना लंड बाहर खींच लिआ और मेरा माल निचे की गिर गया। 

Leave a Comment