बुआ की मालिश करि तेल के साथ और ली चुदाई 

मेरी बुआ मुझ से बहुत ही ज्यादा प्यार करती थी। वह शुरू से ही मुझे कुछ न कुछ तोहफा देते रहती थी जिससे मै उनका लाडला बना हुआ था। वह मुझ पर बहुत प्यार लुटाया करती थी और ऐसे होते हुए आज मै 19 साल का हो गया था। 

बढ़ती उम्र के साथ अब मेरी हवस और काम वासना भी बढ़ती जा रही थी। मेरी बुआ के अलावा मै किसी लड़की  से बात भी नहीं करता था। मेरी बुआ भी यह जानती थी की अब मै बड़ा हो चूका हु पर उनका प्यार अभी भी पहले जैसा ही था। 

उन्होंने मुझे कभी बड़ा महसूस नहीं होने दिआ और समय समय पर मेरा ख्याल रखा। पर अब मुझे अंदर ही अंदर कुछ कुछ होने लगा था और बुआ को देख कर मेरे दिल में बुरे ख्याल आने लग गए थे। 

मुझे  पता था की यह गलत चीज है पर मेरा जिस्म इस बात को नहीं मान रहा था और अब मै बुआ को देख कर रातो को मुठी मारने लगा था।  आज बुआ हमारे घर आयी हुई थी और आते ही उन्होंने मुझे गले से लगा लिआ। 

मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आया क्युकी बुआ के बूब्स बहुत मोटे थे जिनमे मेरा मुह्ह धस गया था। बुआ सबसे मिली और उन लोगो ने काफी बाते भी करि। अब अगला दिन आया और सुबह सुबह पापा काम के लिए निकल गए। 

मम्मी को भी आज मंदिर जाना था इसलिए वह 10 बजे करीब घर का काम करके निकल गयी। अब मै और बुआ घर पर अकेले थे और बुआ मुझ से बहुत ही प्यार से बाते कर रही थी। 

अब मेरे दिमाग में एक बुरा ख्याल आया और मेने बिना सोचे ही बुआ से कहा की वह सफर करने से बहुत थक गयी होंगी तो क्या मै उनकी ठोसी सी मालिश कर दू। बुआ ने कहा किसी मालिश। 

नंगी फिल्मो की दीवानी मेरी हवसी चाची 

बुआ की मालिश करि और कर दिआ नंगा 

अब मेने बुआ  वीडियो दिखाई जिनमे लड़कीअ बिना कपड़ो के मसाज करा रही थी। बुआ ने कहा की वह कपडे नहीं उतरेंगी और मै ऊपर से ही उनका शरीर दबा दू। 

अब में बुआ का शरीर दबाने लगा पर मेने कुछ ही देर बाद कहा की तेल इस्तेमाल करने से शरीर की सारि थकान दूर हो जाती है। पता नहीं क्यों पर बुआ ने भी मुझे इस बात हामी दी और मै जल्दी से जाके तेल ले आया। 

अब मेने बुआ से कहा की उन्हें तेल के लिए अपने कपडे तो उतारने ही पड़ेंगे। बुआ ने अब अपना ब्लाउज  पीछे से खोल दिआ जिसके बाद मेने पीठ पर तेल डालते हुए बुआ के जिस्म को अच्छे से दबाया। 

बुआ को भी इससे मजा आ रहा था और मेने अब अपने हाथ धीरे धीरे बुआ के बूब्स पर लगाने शुरू किये। बुआ की कोई रोक ना देखते हुए मेरी हिमायत बढ़ गयी और मेने उनके बूब्स को अच्छे से दबाना शुरू कर दिआ। 

बुआ भी गरम होती जा रही थी और मेने बुआ से अब कहा की क्या उन्हें आगे से भी मालिश करानी है और बुआ बिना कुछ बोले सीधी लेट गयी और मेने उनका ब्लाउज हटा दिआ। 

 बुआ के बूब्स बहुत ही ज्यादा टाइट और गोल गोल थे जिन्हे देख मै तो पागल ही हो गया था। और मेने अपने दोनों हाथो में तेल लेते हुए उनके बूब्स को दबाना शुरू कर दिआ। 

बुआ भी अब आहे लेने लगी थी और मेने बुआ के पास जाते हुए उनके होठो को चूसना शुरू किआ। वह भी मेरे होठो को अच्छे से चूसे जा रही थी और मजे कर रही थी। 

मामी की गीली चुत को चाट कर चोदा

बुआ की चुत पर लगाया तेल और करि चुदाई 

बुआ लेती हुई थी और अब मै उनके ऊपर आ गया और उनके बूब्स को जोर जोर से दबाने लगा। बुआ को मेर इरादे समझ आ गए थे और मेने भी जल्दी से बुआ की साडी ऊपर डाली। 

उनकी चुत पर थोड़े से बाल थे पर मेने बिना रुकते हुए अपने हाथ से बुआ की चुत को सहलाना शुरू किआ और बुआ को भी अब बहुत मजा आ रहा था। मेने अब अपना लंड लिआ और बुआ की चुत में देते हुए खुद को आगे किआ। 

एक ही बार में मेरा लंड बुआ की चुत में चला गया था और मेने चुदाई भी करनी चालू कर डाली। मै जोर जोर से बुआ के बूब्स को दबाते हुए चुत को मारे जा रहा था और बुआ निचे आहे लेती हुई  वासना से करहा रही थी। 

चुदाई बहुत ही ज्यादा अच्छे से चल रही थी और बुआ भी मुझे अपनी तरफ खींचते हुए मेरा लंड चूत में अंदर तक लेने की कोशिश कर रही थी। चुत के अंदर मेरा लंड सीधा आर पार हो रहा था और चुत तेज तेज रगड़ खा रही थी। 

अब चुदाई काफी देर से चल रही थी और मेरे लंड से कुछ ही देर में पानी आने वाला था। मेने अपना लंड अब चुत से निकाला और बुआ के मुह्ह में देते हुए अपना माल। 

Leave a Comment