बस में पटाई लड़की और उसे गांव में चोदा – 1

आज काफी महीनो के बाद आमे अपने गांव की तरफ जा रहा था और कुछ भी साधन ना मिलने की वजह से मेने अब सोचा की क्यों ना मै आज बस से ही अपने गांव चला जाऊ। 

अब अपने फोन से टिकट बुक करने के बाद मेने बस पकड़ ली और अपने घर से रवाना हो गया। बस में ज्यादा लोग नहीं थे और मेरे साथ वाली ही सीट पर एक हॉट सी लड़की भी बैठी हुई थी। 

मुझे अंदर ही अंदर अब बहुत ज्यादा ख़ुशी हो रही थी की मेरे साथ में ही एक सेक्सी लड़की बैठी है जिससे बाते करते हुए ही मेरा सारा सफर निकल जायेगा और मुझे ज्यादा परेशान भी नहीं होने पड़ेगा। 

अब कुछ एक घंटे बस चलने के बाद मैंने सभी को देखा तो वह अपने अपने काम में लगे हुए और मेने अब उस लड़की से बाते करते हुए उससे नाम पूछा और उनसे मुझे बड़ी ही अजीब तरीके से देखा। 

अब उनसे मुझे कहा की मै कोण हु जो उसका नाम पूछ रहा हु। अब मुझे समझ आ गय्या था की यह लड़की ऐसे ही नहीं पत्नी वाली है और मुझे कुछ ना कुछ तो करना ही पड़ेगा। 

अब कुछ देर के बाद मेने अपने पैसो को चमकाना शुरू कर दिआ और वही हुआ जिस चीज का मुझे इंतजार था। वह लड़की भी अब मेरे पैसो पर आ गयी और कुछ देर के बाद उसने मुझे कहा की मै क्या काम करता हु। 

मेने अब उसे झूट कहा की मेरी सरकारी नौकरी और मेरा तबादला होने की वजह से मै इस गांव में जा रहा हूँ और कुछ महीनो बाद वापस शहर आ जायूँगा। इतना कहने की देर थी और अब वह लड़की मेरे लिए पागल हो गयी। 

चाची को पकड़ा चुत मसलते हुए

लड़की को कर लिआ सेट 

अब पूरा रस्ते उसने मुझसे बात करना बंद नहीं किआ और उसके बारे में मेने जो जो पूछा वह बहुत ही तेजी से सब बताती गयी। मेने उसे अब पूछा की क्या उसकी शादी हो गयी है या उसका कोई बॉयफ्रेंड है ? 

दोनों ही सवालो के लिए उसने मुझे ना किआ और मै समझ गया की वह मेरे लिए अब बहुत कुछ सोचने लग गयी है। मेने अब उससे कहा की क्या मै कुछ दिनों के लिए उसके घर जा सकता हु क्युकी मुझे एक दिन बाद अपनी नौकरी पर जाना है 

शुरू में तो उसने मुझे मना कर दिआ और पर बार बार कहने पर उसने मुझे कहा की उसके  घर के पास ही एक कमरा है जो की उसके दोस्त का है जहा पर मै आराम से रुक सकता हु। 

अब मै भी उसके पीछे पीछे उसके गांव में ही उतर गए और उसने  मुझे अपने दोस्त का कमरा दे दिआ जहा मेने अपने  कपडे बदल लिए और अपना बसेरा कर लिआ। 

कुछ घंटो बाद वह लड़की मेरे पास आ गयी और हम दोनों ने मिलकर बहुत सारि बाते करि। उसने मुझे बताया की मेरे बारे में उसने अपनी मम्मी से भी बात करि है और उन्होंने मुझे कहा की मै तुम्हे अपना गांव दिखा सकती हु। 

यह लड़की अब मेरे प्यार में सेट हो चुकी थी और सांझ रही थी की शादी की बात करने के बाद मै भी इसे प्यार करने लगा हु और अब अगले दिन उसने  दिखाया और काफी जगह भी घुमाई। 

आंटी निकली हवस से भरी हुई औरत 

रात को रुक गयी लड़की मेरे पास

अब वापस आते हुए काफी रात हो चुकी थी और जैसा की आप सभी को पता होगा गांव में 8 बजे ही बहुत  है इसलिए अब काफी लोग भी सो चुके थे जिसमे से उस लड़की का परीवार भी एक था। 

अब मेने उसे कहा की अपने परिवार को जगाने से अच्छा है वह मेरे कमरे में ही रुक जाए अगर उसे कोई परेशानी ना हो तो। उसने कुछ देर सोचने के बाद मेरी बात के लिए हामी भर दी। 

अब रात को वह मेरे साथ में सो रही थी और छोटा बिस्तर होने की वजह से हम दोनों की सांसे एक दूसरे को सुनाई दे रही थी। मेने अब अपने होठ उसके बहुत पास कर लिए। 

हम दोनों ही एक दूसरे के होठो को मेहसूस कर पा रहे थे और वह लड़की भी मुझे अब कुछ नहीं कह रही थी। मेने अब अपनी हिम्मत बांन्धी और अपने होठो को उसके होठो से मिलकर चुम लिआ। 

उसने अब भी मुझे कुछ नहीं कहा जिससे मेरी हिम्मत अब बढ़ चुकी थी। अब मेने अपने होठ सीधा उसके होठो से मिलाये और हम दोनों एक दूसरे को चूमने लग गए। 

थोड़ी ही देर बाद वह लड़की अब मेरी बाहो में थो और हम दोनों बिना रुके बस एक दूसरे के होठो से रसपान किये ही जा रहे थे। बाकी की कहानी पढ़िए अगले भाग में। ……………. बस में पटाई लड़की और उसे गांव में चोदा – 2

Leave a Comment