फोन से मिला चुदाई का रास्ता – 1

मैं मेरी जिंदगी में घटित एक घटना को आप सबके सामने लाना चाहता हूँ। दोस्तो, यह मेरी पहली बार सेक्स की स्टोरी है तो अगर लिखने में कुछ गलती हो जाये तो मुझे माफ़ करना। मेरा नाम दीपक है, मैं 24 साल का हूँ। 

मैं लखनऊ उत्तरप्रदेश में रहता हूँ। मैं एक सामान्य लड़का हूँ, मैं एक सामान्य परिवार से हूँ। यह पहली बार सेक्स की स्टोरी तब की है जब मैं किसी काम से दिल्ली जा रहा था। मेरी ट्रेन सुबह की थी। मैं सही समय पर स्टेशन पर पहुँच गया था। 

ट्रेन में पहले से ही मेरी सीट बुक थी तो मैं अपनी सीट पर जाकर बैठ गया। ट्रेन में यात्री कम ही थे, तो भीड़ नहीं थी। मैं आराम से अपनी रेल यात्रा का मज़ा ले रहा था। मेरी ट्रेन समय पर दिल्ली स्टेशन पर पहुंच गयी थी। 

जब मैं ट्रेन से उतर रहा था तो मैंने देखा किसी का मोबाइल वहीं पर छूट गया था। मैं थोड़ी देर तक वहाँ रुका और सोचा जिसका होगा वो आकर ले जायेगा। कुछ देर तक जब कोई नहीं आया तो मैं मोबाइल उठाया और अपने पास रख लिया और सोचा जिसका होगा वो कॉल करेगा। 

मैं जिस काम से गया था, वो काम करने चला गया। क्योंकि मुझे शाम तक लखनऊ वापस आना था। फिर शाम को जब मैं वापस आने वाला था कि तभी उस फ़ोन की घंटी बजी। तब मैंने फ़ोन उठाया तो पता चला कोई लड़की बात कर रही थी। 

उसने अपना नाम सोनल (काल्पनिक नाम) बताया। उसने पूछा कि मैं कहा हूँ। तब मैंने उसे बताया कि मैं वापस लखनऊ जा रहा हूँ, अभी स्टेशन पर हूँ। मैंने कहा- आप स्टेशन आकर आपना फ़ोन ले लो। पर वह बोली- मैं अभी नहीं आ सकती।

जयपुर में दोस्त की चुदाई – 1 

लखनयु आयी  फोन लेने के लिए

आप आकर मुझे फ़ोन दे दो। मैंने कहा- मेरी ट्रेन है तो मैं नहीं आ सकता। तब उसने बताया कि वो 2 दिन बाद लखनऊ आएगी तब वो अपना फ़ोन ले लेगी। मैंने कहा- ठीक है। और उसे अपना नंबर दे दिया। मैंने कहा- जब आप लखनऊ आओ तो मुझे कॉल कर लेना। 

बाद में पता चला कि उसका घर लखनऊ में ही है। फ़ोन पर उस लड़की की आवाज़ बहुत अच्छी लग रही थी। दो दिन बाद वो जब लखनऊ आयी तो मुझे कॉल किया और फ़ोन लेने के लिए बुलाया। मैं उसका फ़ोन लेकर उससे मिलने को चल दिया। 

उसके साथ उसका भाई भी आया था तो ज्यादा बात नहीं हो पायी। जब मैंने उसे देखा तो मुझे अपने आँखों से विश्वास नहीं हुआ। वो बहुत ही खूबसूरत थी। मैंने उसे उसका फ़ोन वापस किया। और उसने थैंक्स कहा और फ़ोन लेकर चली गयी। 

मैं आपको उसके बारे में बताना भूल ही गया वो करीब 22 साल की एक बहुत ही खूबसूरत लड़की थी। गोरा रंग, काले बाल और काली आँखें। उसका फिगर 30-28-32 का होगा। फिर 2 दिन बाद मेरे मोबाइल पर एक गुड मॉर्निंग का मैसेज आया। 

मैंने भी रिप्लाई कर दिया। उसने कहा- आपने मुझे पहचाना या नहीं? तो मैंने रिप्लाई किया- नहीं! तो उसने बताया- मेरी मोबाइल आपके पास थी, मैं वही हूँ। मैंने भी रिप्लाई किया- ओह्ह आप … मुझे लगा कि आप मुझे भूल गयी होंगी। 

और मैंने भी आपका नंबर नहीं लिया था। उसने कहा- अगर आप फ्री हो तो कॉल पर बात करें? मैंने भी हां बोल दिया। तभी उसने मुझे कॉल किया और फ़ोन वापस करने के लिए थैंक्स कहा। और कहने लगी- मुझे लगा कि मेरा फ़ोन चोरी हो गया या खो गया।

जयपुर में दोस्त की चुदाई – 2

सेक्स चैट  से शुरू हुई कहानी 

अब नहीं मिलने वाला! उसने बताया कि वो मुझसे बात करना चाहती थी पर भाई के साथ होने के कारण नहीं बोल पायी। तब उसने बताया- मैं लखनऊ में अपने भाई के साथ रहती हूँ। मम्मी पापा दिल्ली में रहते हैं। मैं लखनऊ में रहकर पढ़ाई कर रही हूँ।

उसने कहा- क्या आप मेरे फ्रेंड बनेंगे? मैंने कहा- केवल फ्रेंड या और कुछ? उसने कहा- अभी तो फिलहाल फ्रेंड … आगे का बाद में देखा जायेगा। मैंने भी हां कह दिया। जब लड़की खुद सामने से आ रही हो तो उसे मना नहीं करते। 

इस तरह हम दोनों एक दूसरे से कॉल पर बात करने लगे। वो मुझे रोज जो करती। वो अपने बारे में बताती और मैं अपनी डेली लाइफ के बारे में बताता। इस तरह बात करते करते 15 दिन बीत गए। 

फिर एक दिन वो बोली- क्या मैं आप से मिल सकती हूँ? तो मैंने भी मिलने के लिए हां बोल दिया। हम दोनों ने मिलने की जगह तय की। हमने मिलने के लिए एक कॉफ़ी शॉप चुना। जब वो मुझसे मिलने आयी थी तो नीले रंग का सूट सलवार पहनकर आयी थी। 

वो उस सूट में कमाल की लग रही थी। मैं उसको देखता ही रह गया था। तब उसने मुझे हाथ से हिला कर कहा- कहाँ खो गए? मैंने कहा- कही नहीं … बस आपको देख रहा था। आप बहुत खूबसूरत हैं। 

उसने कहा- अच्छा! फिर हमने कॉफ़ी आर्डर की और साथ में बैठकर पीने और बात करने लगे। उसने मुझसे पूछा कि मैं क्या करता हूँ, कहाँ रहता हूँ। और बहुत सारी बातें हुई। उसने कहा कि मैं बहुत अच्छा हूँ। 

हम लोग उस दिन करीब 2 घंटे साथ में रहे और खूब बातें की। इसी तरह से समय बीतता गया। फ़ोन पर हम लोग घंटों तक बाते करते, हफ्ते में एक बार मिलने भी जाते। फिर वो कुछ दिन के लिए फिर दिल्ली चली गयी। पर फ़ोन पर बातें होती रही। 

धीरे धीरे हम एक दूसरे से सेक्स चैट करने लगे। फिर हम दोनों सेक्स करने के लिए राज़ी हो गए। जब वो दिल्ली से आयी तो उसने मुझे अपने घर मिलने को बुलाया। उसने बताया कि सुबह नौ से शाम 5 तक घर पर कोई नहीं रहता।

Leave a Comment