मामा की बेटी को पूरी रात चोदा – 1

मेरे मामा के दो लड़कियां और एक लड़का है। यह बहन की गांड की चुदाई कहानी सबसे बड़ी लड़की की है, जिसका नाम संगीता है। उसकी उम्र इस समय बीस साल है। वो राजस्थान में रहती है। 

मेरी बहन दिखने में ठीक-ठाक है। वो एकदम दुबली पतली और बहुत शर्मीली है। अब आप मेरे बारे में भी कुछ जान लीजिए। मेरी उम्र उससे एक साल बड़ी है। मैं गांव का रहने वाला देसी लौंडा हूं। 

मेरे घर में मेरे माता पिता और दादा दादी हैं। सर्दी की छुट्टियों में मामा की दोनों लड़कियां हमारे घर आई थीं। तब मैं सेक्स की बारे में ज्यादा कुछ नहीं जानता था, बस कभी कभार सेक्स वीडियो देख लिया करता था। 

जब संगीता और उसकी छोटी बहन अमन घर आईं, तो वो मुझसे काफी घुलमिल गईं। मैं हंसी मजाक में संगीता की चूचियां छू दिया करता तो भाई बहन का रिश्ता होने के कारण संगीता इस बात पर ध्यान नहीं देती थी। 

कई बार मैंने उसकी गांड को छुआ, तो भी उसने कुछ नहीं कहा। ऐसे ही उन्हें आए एक सप्ताह हो गया था। उसी समय अचानक मेरी बुआ की सासु मां स्वर्ग सिधार गईं। मेरे माता पिता को वहां जाना पड़ा। 

मेरे घर में मैं, दादा दादी और दोनों लड़कियां संगीता और अमन रह गए थे। रात को मैं, संगीता और अमन के साथ एक ही पलंग पर सो गया था। संगीता पलंग की बीच में सोई थी, एक साइड अमन सोई थी। 

दारू पिलाके करि लड़की की चुदाई – 1

घर में रह गए हम सब अकेले 

मैं एक किनारे लेट गया था और अपने मोबाईल में सेक्स वीडियो देखने लगा। सर्दी का टाईम था तो सभी ने अपने ऊपर रजाई डाल रखी थी। मैं अपनी रजाई में मोबाइल की आवाज बंद कर सेक्स वीडियो देखने लगा जिससे मुझे सेक्स करने का मन करने लगा। 

कमरे में पूरा अंधेरा था। मैंने मोबाईल बंद किया और संगीता की तरफ खिसक कर अपना एक हाथ संगीता की तरफ डाल दिया। मैं अपने हाथ को हल्के से आगे ले जाने लगा। मेरा हाथ संगीता की गांड से जा लगा। 

मैंने अपने हाथ को और आगे बढ़ाया तो मेरा पूरा हाथ उसकी गांड पर आ गया। मैं अपनी एक उंगली उसकी गांड की दरार में फेरने लगा। उसके चूतड़ बहुत छोटे थे जिस कारण मेरी उंगली उसकी गांड के छेद तक आराम से चली गई। 

अब मुझसे रुका ना गया और मैंने अपनी उंगली उसकी गांड के छेद में घुसा दी। इससे वो एकदम से उचक गई और जाग गई। वो मेरी तरफ पलट गई और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी रजाई से बाहर निकाल दिया, पर कुछ बोली नहीं। 

मैंने फिर से अपना हाथ उसकी रजाई में डाल दिया तो उसने मेरे हाथ में अपने नाखून गड़ा दिए पर मैंने हाथ बाहर नहीं निकाला। वो नाखूनों से मेरे हाथ को नौंचने लगी, तो मैंने उसकी कमर पर हाथ डाल कर अपनी तरफ खींच लिया। 

अब वो एकदम शांत हो गई। मैंने भी सीधे उसकी सलवार में हाथ डाल दिया। वो अभी भी कुछ नहीं बोली तो मैं उसकी गांड में उंगली करने लगा। वो चुप पड़ी रही और कुछ नहीं बोल रही थी। मैं उसकी गांड में उंगली अन्दर बाहर करता रहा। 

फिर उंगली उसकी चूत में लगाई तो उसने हटा दी। मैं उसकी चूत के बजाये गांड में उंगली करने लगा और मेरी उंगली उसकी गांड में काफी अन्दर तक जा रही थी। मुझे लगा कि इसका भी चुदवाने का मन हो रहा है। 

बड़े भाई के लंड से चुदाई चुत – 1 

रात भर संगीता की गांड में करि उंगली

पर एक बात हैरान कर देने वाली भी हुई कि इतनी कम उम्र में इसकी गांड आसानी से उंगली कैसे ले रही है क्योंकि गांड में उंगली लेना कोई साधारण बात नहीं होती है। 

फिर मैंने सोचा कि आजकल इंटरनेट का जमाना है इसलिए छोटी उम्र में ही इसे गुदा-मैथुन का मजा मिल गया हो या इसने खुद ही अपनी गांड में उंगली या खीरा मूली डाली हो। खैर … मुझे मजा आ रहा था, तो मैं उसकी गांड में उंगली करता रहा। 

मैं उसके होंठों को चूमने लगा तो उसने अपना मुँह घुमा लिया। मैंने उसके सर को पकड़ कर उसके होंठों को चूस लिया तो वो गुस्सा हो गई। वो बोली- अगर तुम नहीं रुके, तो मैं अमन को जगा दूँगी। घर में भी सबको बता दूंगी। 

पर वह यह सब धीरे से बोली, जैसे उसे डर हो कि कहीं अमन न जाग जाए। मैं उसकी बात को अनसुना करते हुए उसके एक चूतड़ पर हाथ फेरने लगा। वह अमन को बीच में से उठ कर खुद अमन की दूसरी तरफ जाकर लेट गई। 

उसने अमन को बीच में कर दिया जिससे अमन उठ गई। वो बोली कि क्या हुआ? पर संगीता ने बात टाल दी। फिर अमन पेशाब करने चली गई। अमन के आने से पहले में अमन की जगह लेट गया। अमन ने जब मुझे उसकी जगह पर लेटा दिखा तो उसने पूछा। 

मैंने कहा- ऐसे ही … रात को बीच में से उठने में तुझे तकलीफ नहीं होगी। मैं रात को कम ही उठता हूं। संगीता भी हमारी बात सुन रही थी पर वो कुछ नहीं बोली। एक मिनट बाद वो बाथरूम में चली गई। उसके आने के बाद हम सब फिर से सोने लगे। 

थोड़े समय बाद मैंने अपना काम फिर से चालू कर दिया। अब की बार मैंने अपना हाथ रजाई में घुसा कर सीधे संगीता की सलवार में डाल दिया। वो कुछ नहीं बोली, यहां तक कि हिली तक नहीं। 

मैंने अपनी एक उंगली उसकी गांड में डाल दी और अन्दर बाहर करने लगा। मुझे इस बार उसकी गांड में कुछ चिकनाई सी लगी तो मैं समझ गया कि ये बाथरूम में जाकर अपनी गांड में तेल या कुछ चिकनी चीज लगा आई है। 

मामा की बेटी को पूरी रात चोदा – 2

Leave a Comment