फेसबुक का कैसुअल सेक्स | पूरी कहानी अजनबी से सेक्स तक

सभी को मेरा हार्दिक अभिनंदन, फेसबुक के बारे में आप सभी ने कभी ना कभी  सुना या पढ़ा जरूर होगा। हो सकता है की आप इसे  उसे भी करते हो। तो मै आपको  फेसबुक पे आपको नए नए दोस्त बनाने के मोके मिलते है जीने आप बाते भी कर सकते है। तो मेरी येह कहानी भी कुछ इसी तरह की है जहा मैने एक लड़की को बातो बातो में ही सेक्स के लिए राजी कर लिआ और उसके घर जाकर चुदाई भी करी। 

मै फेसबुक का इस्तेमाल 9वि क्लास से करता आ रहा था  मै बहुत से लोगो से बाते किआ करता था जिनको मै जानता भी नहीं था। अब मै 11वी क्लास में आ गया था और मै बहुत से  भी गया था। उन्ही में से एक लड़की का नाम सोनम था। सोनम से मै  बहुत ज्यादा बाते किआ करता था जिससे हम दोनों की गहरी दोस्ती हो गयी थी। सोनम दूसरे शहर में रहा करती थी जो हमारे शहर से 5 घंटे की दूरी पर था। 

सोनम से मै रातो के समय भीबाते किआ करता था जिससे हमारी बाते कई बार सेक्स चैट तक पहुंच जाती थी। वह मुझे बताया करती थी की उसे किस तरह चुदाई करवाना पसन्द है। एक बार की बात सोनम से उसकी नंगी फोटोज मांगी। कुछ देर आना कानि करने के बाद सोनम फोटोज भेजने के लिए राजी हो गयी। 

और भी कहनिओ का भंडार: Antarvasna Stories

सोनम की तस्वीरें देख मारी मुठी 

सोनम ने मुझे कुछ देर बाद अपनी तस्वीरें भेजी जिसमे वह पूरी तरह नंगी हो रखी थी। सोनम के बूब्स बहुत ही बड़े बड़े और उभरे हुए थे जो फोटोज में सबसे ज्यादा चमक रहे थे। सोनम के चुचो केनिप्पल भी खड़े हो रखे थे क्युकी शायद सोनम ने उन्हें दबाने के बाद फोटोज खींचे थे। 

सोनम ने एक फोटो अपनी चूत की भी भेजी थी जिसमे उसकी चूत पर घने बाल थे। मैने उसे चूत  करके फोटो  भेजने के लिए कहा पर जबतक वह सो चुकी थी।  उसी रात मैने सोनम की फोटोज को देखते हुए अपन लंड को खुद रगड़ा और पानी निकाल दिआ। 

अब मुझे सोनम को चोदने के ख्याल आये जा रहे थे पर सोनम दूसरे शहर में रहा करती थी। अब अगली बात मेने सोनम से उसकी चुदाई करने के लिए पूछा। सोनम ने शरारती अंदाज में हां बोलते हुए मुझे उसके शहर आने को कहा। अगले दिन मैने अपने दोस्त के साथ सोनम के शहर जाने का प्लान बना लिआ और रवाना हो गए। 

सोनम को मैने मेसेज कर दिआ की आज रात वह अपनी चुदाई करवाने के लिए तैयार रहे।  सोनम को यह सब एक मजाक लग रहा था। सोनम के शहर पहुंचकर मैने सोनम का घर का ठिकाना पूछा और सीधा उसके घर की और चले गए। सोनम हमें उसके घर के सामने खड़ा देख बहुत चौक गयी थी और अब मुझे बस रात होने का इन्तजार था। 

Also Read This: मेघा की हवस और मेरी दोस्ती

सोनम की चुत फाड्ते हुए करी दमदार चुदाई 

रात  होते ही सोनम ऑनलाइन आयी और मैने उसे घर से बहार आने के लिए कहा। सोनम की गांड फट रही थी और जैसे तैसे करके वह हमारी गाडी तक आ गयी। अब मैने अपने उसे गाडी में बिठाते हुए गाडी एक कोने में लगा दी और अपने दोस्त को कुछ देर के लिए बाहर भेज दिआ। सोनम थोड़ी डरी हुई सी लग रही थी और वही दूसरी तरफ मेरी हवस शरीर में उबाल मर रही थी। 

सोनम को मैने सीट को पीछे करते हुए हल्का सा झुका दिए और उसके ऊपर आ गया। अब मेने बिना बाते करते हुए सोनम के पंखुड़ी जैसे होठो को चूसना शुरू कर दिआ। सोनम भी इस रात के लिए तैयार होकर आयी थी। सोनम ने अपनी टीशर्ट के निचे ब्रा ही नहीं पहनी थी। 

सोनम की टीशर्ट में हाथ डालते हुए मेने उसके चुचे हाथो से दबाना शुरू कर दिए। सोनम कामवासना में खोयी जा रही थी और मुझे बाहो में भरते हुए चूमे जा रही थी। सोनम की जिस्म की खुसबू से मै भी पागल सा हो गया था और उसकी टीशर्ट उतारकर बूब्स चूसने शुरू कर चूका था। 

सोनम के निप्पल काले रंग के व बहुत ही टाइट और खड़े हो गए थे जिन्हे मै अपने होठो से चूसते हुए उसे मजे दे रहा था। अब मैने अपने सारे कपडे उतार फेके और अपना लंड हाथ में लेकर गाडी की दूसरी सीट पर बैठ गया। मैने अब सोनम को मेरा लंड चूसने के लिए कहा। 

सोनम मेरा लंड चूसने में आना कानि कर रही थी तो मैने सोनम का मुह्ह पकड़कर अपने लंड पर लगा दिआ। सोनम के होठ मेरे लंड पर लग चुके थे। सोनम को मेने कोशिश करने के लिए कहा। अब सोनम ने शुरू में मेरा लंड का टोपा मुह्ह में लिआ और चूसना शुरू किआ। कुछ देर बाद सोनम को लंड चूसने में मजा आने लगा और वह मेरे लंड की जोरदार चुसाई करने लगी। 

अब मेरा लंड पूरी तरह खड़ा हो चूका था और चुदाई करने के लिए तैयार था। मैने सोनम के पजामे में अपना हाथ डाल दिआ और सोनम की गीली चूत पर उंगलिआ फिराने लगा। सोनम की चूत पूरी तरह गीली हो रखी थी जिनकी फैंको के बिच मै अपनी उंगली सेहला रहा था। 

सोनम भी अब गरम हो चुकी थी और मैने सोनम का पजामा उतार दिआ और उसे पूरा नंगा कर दिआ। मैने सोनम को अपने लोडे पर बिठाते हुए उसकी चूत में अपना लंड फसा दिआ। सोनम की गीली चूत एक ही झटके में मेरा पूरा लंड अन्दर ले गयी। अब सोनम ने मेरे लोडे पर उछलते हुए चुदाई करवाना शुरू कर दी। पूरी गाडी में चुदाई की आवाजे आ रही थी और गाडी सोनम की चुदाई से बहुत हिल भी रही थी। 

मैने भी अब निचे से अपना लंड पूरा सोनम  की चूत  में देना शुरू कर दिआ। अब सोनम की आहे चीखो में बदलने लगी और सोनम मुझे नोचने लगी। मै अपना लंड पूरी तरह सोनम की चूत में अंदर बाहर कर रहा था जिससे सोनम की चूत बहुत ही ज्यादा गरम हो चुकी थी।

कुछ ही देर बाद सोनम की चूत इतनी गरम हो गयी की सोनम की चूत ने पानी छोड़ दिआ। मैंने भी अपने धक्के तेज करते हुए अपना लंड सोनम की चूत में ही झाड़ दिआ। 

उस रात हमारी चुदाई का कार्यक्रम कई घंटो तक चला जिसमे मैने सोनम की चूत को चोद चोद कर ढीला कर दिआ। उस दिन के बाद सोनम भी एक बार मुझसे मिलने मेरे शहर आयी और हम दोनों ने उस दिन भी चुदाई की सभी हदें पार दी। 

Leave a Comment