लोडे की प्यास और मेरी चुत की गर्मी

मेरा नाम कीर्ति है दोस्तों और आज जो मै आप सभी को कहानी सुनाने जा रही हु यह मेरी अपनी है जो आज से कुछ 3 महीने पहले ही हुई थी। मेरी उम्र अभी बस 22 साल की है जिसमे मेरी जवानी बहुत ही उबाल मार रही है। 

तो बात कुछ यु शुरू हुई की जवानी के इन मुश्किल दिनों में मेरा साथ देने के लिए मेरे साथ कोई भी लड़का नहीं था और ऐसे ही किसी लड़के की तलाश करते हुए मेरी दोस्ती हुई किशन से। 

यह मेरा दूर का दोस्त था जिससे में इंटरनेट पर मिली थी। किशन मुझ से बहुत ही अच्छे से बात करता था और वह भी मेरी ही तरह हवस से भरा हुआ और हरामी भी था। 

किशन की एक बात मुझे हमेशा अच्छी लगती थी की वह मुझ से कभी भी गुस्सा नहीं होता था चाहे मै उसे कितना ही बुरा भला क्यों ना कह दू। किशन भी शायद मुझ से प्यार करने लगा था और मेरा दील तो उसपर आ ही चूका था। 

मेरी जवानी का साथी अब मेने उसे मान लिआ था और अब मुझे उससे मिलना था। बाते करते हुए हम दोनों ने एक दिन मिलने का प्लान बनाया और किशन ने मुझे उसके घर आने को कहा क्युकी वह अकेला रहता था। 

यह मौका मेरे लिए भी अछा था और मेने एक दूकान से जो मेरे घर से दूर थी वह जाकर कुछ कंडोम के पैकेट ले लिए जिससे चुदाई करवाने में मुझे कोई रूकावट ना देखनी पड़े। 

अब मेने मेट्रो ली और किशन के घर की और चल पड़ी। कुछ ही समय में किशन मुझे मेट्रो से उतारते ही दिख गया और वह अब मुझे अपना घर ले गया। उसका घर बहुत ही ज्यादा साफ़ और खुशबूदार था। 

बुआ की मालिश करि तेल के साथ और ली चुदाई 

चुत चुदाई के लिए करा लंड को खड़ा 

अब मै वह कुछ देर बैठी और उससे पहली बार मिल कर मुझे बहुत ही अछा लग रहा था। मेने उसे बहुत सारे इशारे किये पर वह मेरे करी भी नहीं आ रहा था और अब मेने सीधा ही उससे कहा की वह मेरे पास आकर बैठे। 

वह अब मेरे पास बैठा और उसने मुझे कहा की बताओ क्या बात है। मेने उसे बिना कुछ कहे ह अपने गले से लगा लिआ और उन भी मुझे अपनी बाहो में ले लिए और हम दोनों बिस्तर पर गिर गए। 

मै बहुत ज्यादा खुश थी और हम दोनों एक दूसरे की आँखों में देख रहे थे और मेने अब अपने होठ आगे किये और कुछ ही देर बाद  दोनों एक दूसरे के होठो को चूसना शुरू हो गए। 

हम दोनों की हवस साफ़ साफ़ दिख रही थी और वह मुझे काफी प्यार से चूमे जा रहा था। अब मेने अपना हाथ सीधा उसके लंड पर रखा और उसे सहलाना शुरू कर  जिससे वह खड़ा हो जाए। 

मुझे ऐसा करते देख उसने भी अपना हाथ मेरी पेंट में डाला और मेरी चुत पर अपना हाथ सहलाने लगा जिससे मेरी हवस बहुत बहती जा रही थी। अब मै बिस्तर पर लेती हुई थी और वह मेरे ऊपर आकर मेरे जिस्म को चूमने लगा। 

मामी की गीली चुत को चाट कर चोदा

चुत चुदाई करवाई और लिआ चरमसुख का मजा 

मुझे बहुत मजा आ रहा था पर मेरी चुत चुदाई करवाने के लिए मचल रही थी। जैसे जैसे वह मेरे बदन को चूमता हुआ निचे जा रहा था मै भी अपने हाथ से उसे अपनी चुत पर ले जा रही थी। 

अब उसने मेरी पैंटी निकली और अपने होठ और जीभ से चुत को चाटना शुरू किआ। वह बहुत ही आराम से मेरी चुत की पंखुडिओ को चाट रहा था जिससे मेरी वासना बढ़ती जा रही थी और चुत गीली हो चुकी थी। 

अब मेने अपनी दोनों टाँगे खोली और वह अपना लंड लेके बिच में आ गया। उसने अपना लंड चुत में देना शुरू किआ पर लंड अंदर नहीं जा रहा था। मेने अब उसका लंड पकड़ा और छेद पर रखते हुए उसे रास्ता दिखाया। 

अब एक धक्के में उसका लंड मेरी चुदाई कर रहा था और मै अपने बूब्स दबाती हुई चुदाई करवा रही थी। जोर देते हुए वह मेरी चुत मारे जा रहा था जिससे मेरी चुत की गर्मी निकल रही थी। 

यह सेक्स मुझे काफी मजा दे रहा था और किशन भी मेरी चुत चुदाई में कोई कमी नहीं छोड़ रहा था। वह अपना लंड काफी तेजी से अंदर बाहर कर रहा था जिससे मेरी चुत पर उसका लंड रगड़ खा रहा था। 

पर शायद अब किशन थका चूका और पहली चुदाई करने की वजह से उसके लंड से पानी भी निकलने ही वाला था। मेने कई बार चुदाई करवाई थी इसलिए मेने यह पहले ही भाप लिआ। 

अब मै उठी और उसके लंड को पकड़ कर काफी जोर जोर से चूसने लगी और कुछ ही देर की चुसाई के बाद उसने सारा वीर्य मेरे मुह्ह में ही छोड़ दिआ। 

Leave a Comment