मौसी ने लिआ मेरा मोटा लंड अपनी मोटी चुत में 

मेरी मौसी की शादी को आज 2 साल से ज्यादा हो चुके थे और मेरी मौसी भी भी अपने पति से लड़ने के बाद कई बार हमारे घर पर आ जाया करती थी। मौसी को देख कर कोई भी नहीं कह सकता था की वह शादीशुदा है। 

मौसी अभी भी दिखने काफी जवान थी और यही एक कारण था की मुझे मौसी को देख कर कई बार हवस चढ़ जाया करती थी। मौसी भी मुझसे कुछ कम नहीं थी और जब भी उन्हें मौका मिलता था वह मुझसे मजाक करती थी। 

आज भी कुछ ऐसा ही हो रहा था और घर में मेरी आज शादी की बात हो रही थी। बार कुछ यु थी की मम्मी ने मुझे एक लड़की देखने के लिए कहा था जो की दिखने में बहुत ही ज्यादा सुन्दर थी पर मेने अपनी पढ़ाई की वजह से शादी के लिए अभी मना कर दिआ था। 

अब इसी बात को लेके मौसी ने मुझे मजाक मजाक में कहा की यह पढाई तो बाद में होती रहेगी और अभी इतनी सुन्दर बीवी मिल रही है इसको में अपने हाथ से ना जाने दू वरना अगली सर्दिआ मेरी  बहुत ही खराब जाने वाली है। 

इसका मतलब सब लोग समझ गए और सभी अपने अंदर ही अंदर एक अजीब सी झीझक लेके है रहे थे की यह मौसी ने मुझे किसी बात कर दी है। अब मेने गुस्से में आते हुए मौसी से कहा की राते तो मेरी आजकल वैसे भी मुश्किल से ही निकल रही है और आज वह मेरे पास मेरी मदद के लिए आ जाए। 

पापा ने अब मुझे अगले ही पल चुप करवा दिआ की अपने बड़ी से ऐसी बाते नहीं किआ करते है और यह सब मेरी उम्र में अच्छा नहीं लगता है। अब मेने खाना खाया और जल्दी से अपने कमरे में ऊपर चला गया। 

मोनिका आंटी की वासना का खेल 

मौसी आ गयी रात में मेरे पास 

अब काफी रात हो चुकी थी और मै अपने कमरे में बैठा हु आ अपना फोन चला रहा था की तभी मेने देखा की मौसी मेरे कमरे में आ गयी है और मुझसे देख कर हस रही थी।

मेने अब मौसी से कहा की सब कुछ ठीक तो है और वह इतनी रत गए मेरे कमरे में कैसे आ गयी है। मौसी ने अब मुझे कहा की वह मेरी आज की रात आराम से कटवाने आयी हु क्युकी मेने दिन में कहा की रात में आजकल मुझे बहुत परेशानी हो रही है। 

अब मेरे अंदर बहुत साडी बाते चल रही थी और मेने अब मौसी से हसकर कहा की वह तो बीएस एक मजाक था और अब इसका जवाब देते हुए मौसी ने कहा की क्या मेरी बस बातो में ही जोश है। 

ऐसा कहने से मुझे अब गुस्सा आ गया और मेने मौसी से कहा की अगर ऐसा ही है तो वह आज मेरे पास जाए जिसके बाद मै उन्हें अपना जोश दिखा दूंगा। 

 मौसी भी अब बिना रुके मेरे बिस्तर में घुस गयी और मेरे साथ कम्बल में आ गयी। 

मौसी के हाथ मेरी जांघ पर थे और जिसे वह बहुत ही प्यार से सेहला रही थी और अब  मौसी ने मुझे कहा की बताओ क्या मसला है जो मुझे नींद नहीं आ रही है। मेने मौसी से कहा की मुझे ठंडी लग रही है इसलिए में जगा हुआ था। 

स्कूल की मेडम को घर जाके करि चुदाई – 3

मौसी ने किआ कम्बल में सेक्स 

मौसी ने मुझसे कहा बस इतनी सी बात और ऐसा कहने के बाद मौसी ने मुझे बाहो में भरा और मुझे कहा की लाओ मै तुम्हे गरम कर दू। मेरा मुह्ह उनके बूब्स में था और उनके चुचो की उभारो पर मै अपनी सांसे छोड़ रहा था। 

मौसी की सांसे भी काफी तेज हो रही थी और अब कम्बल के अंदर मौसी ने मेरा लंड पकड़ कर सहलाना शुरू कर दिआ था। मौसी काफी तेजी से सब कर रही थी और अब मौसी ने अपने होठ मेरे होठो से मिला दिए। 

बारी बारी से हम दोनों अपने जिस्म की आग एक दूसरे के होठो के पानी से भुझा रहे थे और होठो चूसते हुए मौसी के बूब्स की निप्पल भी अब एकदम सख्त हो गयी थी। 

मेने मौसी के बूब्स को दबाते हुए उनके ऊपर के कपडे निकाल दिए और उन्हें नितम्बो की निप्पलों को चूसने लगा जिससे मौसी की आहे निकलने लगी। निचे मेरा लंड चुदाई के लिए तैयार हो चूका था और अब मौसी ने अब कम्बल में ही अपना पजामा निकाल दिआ। 

मौसी घूमी और पीछे से उन्होंने मेरा लंड अपनी चुत के छेद पर रख दिआ और उसे बहुत ही प्यार से अंदर ले गयी। मेने अब पीछे से मौसी को कस के पकड़ लिआ और लंड को अंदर बाहर करना चालू हो गया। 

मौसी तेजी से सांसे ऊपर निचे ले रही थी और मेरा लंड उनकी चुत में सेर करते हुए खूब जोर जोर से चुदाई कर रहा था। कम्बल के अंदर सब बहुत गरम हो चूका था और मै पीछे से मौसी की बूब्स मसलते हुए उनकी चुदाई करे जा रहा था। 

यह मेरी पहले चुदाई थी इसलिए अब मेरा माल भी निकलने ही वाला था और मेने अपना लंड और भी तेज तेज अंदर बाहर करना शुरू कर लिआ और कुछ झटको के बाद मेरे लंड से पानी आने लगा जो मेने अपने बिस्तर पर की निकाल दिआ और कुछ देर बाद मौसी ने अपने कपडे पेहेन लिए और हस्ते हुए अपने कमरे में चली गयी। आगे की कहानी पढ़िए बाकि की hindi sex stories में। 

Leave a Comment