पड़ोस वाली औरत की चुत चुदाई का किस्सा 

हमारा इलाका बहुत ही साफ़ और अच्छा था पर अब कुछ बदलने वाला था क्युकी हमारे 2 घर बाद की एक औरत रहने आयी थी जिसके बारे में लोगो बहुत ही अजीब सोच थी की वह चुदाई करवा के पैसे कमाती है। 

यह सुनने के बाद मुझे भी बहुत हैरानी थी और मुझे भी पैसे देके उस औरत की चुदाई करनी थी। मुझे यह भी डर था की अगर यह बात झूट हुई तो चुदाई की बात मेरी मम्मी को पता लग जाएगी। 

पर हवस की भूक ने मेरे दिमाग में एक प्लान ला दिआ और अब मेने पड़ोस वाली आंटी की चुदाई के लिए एक नया प्लान बनाया। मेने आंटी से शुरू में बहुत ही अच्छे से बात करि और आंटी को पटाया। 

अब आंटी के बारे में लोगो की सोच भी ठीक होने लगी थी क्युकी आंटी से मिलने कोई भी नहीं आता था। अब मेने आंटी से बात कर और उन्हें यह भी बताया की उनके बारे में लोग ऐसी बाते करते है। 

पर अब आंटी ने मुझे रोका और कहा की वह लोग सही सोच रहे थे पर वह लेती नहीं है देती है क्युकी उनकी कंपनी बहुत अच्छे से काम कर रही है और उनके पाद बहुत पैसा है। 

यह सुनने के बाद मै चौक गया था और मेने आंटी से कहा की वह लोगो को सेक्स के लिए पैसे क्यों देती है। आंटी ने कहा की उन्होंने अभी तक शादी नहीं की है और वह अच्छे से सेक्स का मजा लेना चाहती है जिसे लिए वह अलग अलग मर्द से मिलती रहती है। 

मेने आंटी को देखा और कहा की वह तो बहुत अछि लाइफ जी रही है जो हर कोई जीना चाहता है। आंटी हसी और उन्होंने मुझे कहा की मै भी पैसे कमा सकता हु उन जैसी और औरतो की जरूरत पूरी करके। 

मेने आंटी के कहा की मुझे इस सब से डर लगता है क्युकी इसमें बदनामी होने का डर होता है। आंटी ने मुझे बोला की मै उनसे शुरू कर सकता हु अगर मुझे कोई भी एतराज ना हो। 

बेहेन की दोस्त को सिखाया चुदाई का मजेदार खेल

पड़ोसन आंटी के साथ किआ सेक्स और लिआ पैसा 

मेने भी जल्दी जल्दी में आंटी को हां बोल दिआ और आंटी ने मुझे शाम 5 बजे उनके घर ही आने के लिए कहा क्युकी उस समय हमारी गली खाली रहती थी। अब 5 बजते ही मै आंटी के पास गया। 

आंटी वह मेरा इन्तजार कर रही थी और उन्होंने मुझे दरवाजा अंदर से बंद करने के लिए कहा। आंटी ने मुझे शुरू में २००० रुपए दिए और कहा यह मेरा एडवांस है जो मुझे उनकी जरुरत पूरी करने के लिए मिला है। 

यह कहने के बाद आंटी ने मेरी शर्ट खोल दी और अब मेरे जिस्म पर हाथ फेरते हुए मेरे लंड पर अपना हाथ रख दिआ। आंटी ने कहा की जैसे ही मेरा लंड खड़ा हो में वह रखी एक गोली खा लू। 

अब आंटी ने मुझे होठो पर चूमना शुरू किआ और आंटी के होठ भी बहुत नरम थे जिन्हे मै अच्छे से चूसे जा रहा था। अब आंटी ने मुझे कहा की मै बिस्तर पर लेट जायु और आंटी ने मुझे अब नंगा कर दिआ। 

आंटी ने मेरे लंड को हाथ में लेते हुए मेरे होठो चूसना चालू किआ और कुछ ही देर बाद मेरा लंड खड़ा हो गया और मेने वह दवाई खा ली। अब आंटी ने कुछ देर मेरा लंड अच्छे से चूसा और उसे पूरा गिला कर दिआ। 

अब आंटी हवस में आ गयी थी और उन्होंने अपने भी कपडे निकाल दिए और नंगी हो गयी। आंटी अब मेरे मुह्ह पर बैठ गयी और मुझसे अपनी चुत चटाई काफी देर तक कराइ जिससे वह गरम हो गयी। 

अब आंटी ने मेरा लंड पकड़ा और उसे अपनी चुत में लेके बैठ गयी और चुदाई करवाना शुरू हो गयी। आंटी जोर जोर से मेरे लंड पर अपनी चुत पटक रही थी और चुदाई का मजा ले रही थी। 

मौसी की कराई चुत साफ़ और बदले में दिए चुदाई का मजा

आंटी की चुत से आ गया पानी 

आंटी मेरे लंड पे चढ़कर अपनी चुत मरवाते हुए आहे ले रही थी और अब मुझे भी मस्त मजा आने लगा था। मेने भी आंटी की कमर पकड़ कर उनकी चुदाई में मदद करनी शुर कर दी। 

मेने आंटी को अब निचे कर दिआ और आगे से उनकी चुत में लंड घुसा डाला। आंटी के होठो को चूमते हुए अब मै आंटी की चुत बिना रुके बजाता रहा और शायद दवाई की वजह से मेरे लंड से पानी भी नहीं निकल रहा था। 

अब पड़ोसन आंटी की चुत की भी हालत खराब होने लगी थी और यह हाफ्ते हुए अपनी चुत चुदाई करवा रही थी।  आंटी जोर जोर से आआह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह करने लगी और अगले ही पल उनकी चुत से पानी आने लगा और वह कापने लगी। 

मेने उनकी चुदाई और भी तेज कर दी और आंटी  से सारा पानी मेरे लंड पर निकल गया और आंटी ने मुझे बाद में २००० रुपए और भी दिए। 

 

Leave a Comment