पडोसी की बीवी की चुदाई का प्लान और चरमसुख का मजा

कुछ ही महीनो पहले की बात है कुछ नए पडोसी हमारे घर के साथ वाले मकान में रहने आये। अंकल दिखने में कुछ बूढ़े और बड़े दिख रहे थे पर जो उनके साथ कड़ी थी उन्को देख कोई नहीं बोल सकता था की वह उनकी बीवी है। 

आंटी का नाम नीलम था और वह दिखने में बहुत ह ज्यादा हॉट थी। नीलम आंटी की गांड मोटी और गाल भी बहुत फुले हुए थे। आंटी का कोई बच्चा भी नहीं था और वह २ लोग ही अब हमारे नए पडोसी बनने वाले थे। 

नए पड़ोसियों को अब लगभग 1 महीने यहाँ आये हो चूका था और मम्मी से नीलम आंटी की बात भी अछि बनने लगी थी। अब धीरे धीरे नीलम आंटी भी मुझसे बाते करना शुरू हो गयी 

अब एक की बात है मम्मी और आंटी बात कर रहे थे और मै पीछे से उनकी बाते चुपचाप सुन रहा था। मम्मी ने आंटी से पूछते हुए कहा की उनका कोई बच्चे उनके साथ क्यों नहीं आये है। 

शुरू में आंटी चुप रही पर बाद में आंटी ने बताया की हजार कोशिशों के बाद भी वह बच्चा पैदा नहीं कर पा रही है जिससे उनकी और उनके पति की कई बार लड़ाई भी हो जाया करती है। यह कहकर आंटी थोड़ा दुखी हो गयी जिसके बाद मम्मी ने आंटी को चुप करा दिआ। 

अब मुझे अपनी नई पड़ोसन की चुदाई  का प्लान समझ आ गया था। मुझे बाद अब आंटी के करीब जाने का कोई मौका चाहिए थे जिसके बाद में आंटी की चुदाई बहुत ही अच्छे से कर सकू। 

कुछ ही दिन बाद आंटी और अंकल की लड़ाई होना शुरू हो गयी और आंटी इस लड़ाई के बाद काफी रो भी रही थी जो मै उनके घर के पास खड़ा होकर ही सुन रहा था। 

नयी चाची के चुदाई के सपने और रात भर का सेक्स

आंटी को किआ बच्चा देने का वादा

अब कुछ समय बाद अंकल गुस्से में बाहर ए और अपनी बाइक लेकर कही निकल गए। मेने गेट के अंदर जैसे ही देखा तो नीलम आंटी रोते हुए जमीन पर गिरा हुआ सामान उठा रही थी। अब आंटी ने जैसे ही मुझे देखा मै आगे की और निकल गया। 

अब शाम का समय हो गया था आंटी अपने घर के बाहर बैठी और जैसे ही अपने घर से निकला आंटी ने मुझे अपने पास बुला लिआ। अब आंटी ने मुझे कहा की दिन में मेने जो कुछ भी देखा है वो मै किसी से भी ना बोलू। 

मेने आंटी की हां में जवाब देते हुए अपना सर हिला दिआ। अब आंटी से मेने कहा की उनकी परेशानी का इलाज मै बहुत ही आराम से कर सकता हु। आंटी ने शुरू में अनजान बनने की कोशिश  पर जब मै जाने लगा आंटी ने मुझे वापस बुला लिआ। 

अब आंटी से मेने अंदर जाने को कहा। आंटी को मेने कहा की शायद उनके पति बूढ़े है इसलिए आपका बच्चा नहीं हो पा रहा है इसलिए वह किसी अच्छे डॉक्टर से मिलकर अपना छोटा सा इलाज कराके बच्चा पैदा कर सकती है। 

अब आंटी ने कहा की उस हालात में बच्चा किसी और के जैसा दीखता है और वह कोई अछि बात नहीं है। अब आंटी ने कहा इससे अछा तो यह होगा की मै किसी अच्छे इंसान के साथ सोयु जो मेरे बच्चे को अच्छे गुण दे सके।

अब आंटी से मेने कहा अगर वह चाहे तो मै उनका यह काम कर सकता हु जिससे उन्हें किसी और के पार जाने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी। अब आंटी ने कुछ देर सोचा और मुझे कहा की कल दिन में 2 बजे मै उनके घर आ जायु। 

बेहेन ने नहलाया और लपक लिआ मेरा लंड

पडोसी की बीवी को दिआ बच्चा और चुत मारी घपाघप

अब अगले दिन 2 बजते ही मै उनके घर चला गया और जैसे ही मै अंदर गया तो मेने देखा घर पर आंटी एकदम अकेली थी और जिसका मतलब मै पहले से ही समझ गया। अब आंटी एक सुन्दर सी ड्रेस के साथ बाहर आयी। 

आंटी ने मुझे कहा अगर मै तैयार हु तो वह मेरा इस्तेमाल इस नेक काम में करना पसंद करेगी। अब आंटी मुझे अपने बिस्तर की तरफ ले गयी और वहा जाके मुझे बिस्तर पर ही लिटा दिआ। अब आंटी धीरे धीरे अपने कपडे खोलना शुरू हो गयी। 

क्कुह ही देर बाद आंटी बस अपनी ब्रा और पैंटी में मेरे सामने थी और अब आंटी मेरे ऊपर चढ़ गयी और मुझे चूमना शुरू हो गयी। आंटी धीरे धीरे मेरे लंड एक पहुंच गायी और आंटी अब मेरे लंड को चूसना शुरू हो गयी। आंटी मेरे लंड को जोर जोर से चूसे जा रही थी जिससे वह पूरा खड़ा हो गया। 

अब आंटी अपनी चुदाई के लिए राजो थी और मेरे लंड पर अपनी चुत रखते हुए लंड को अपनी चुत में ले लिआ। आंटी शुरू में थोड़ा सा करहाई और अब आंटी ऊपर निचे होते हुए मेरे लंड पर कूदना शुरू हो गयी। 

आंटी अपनी चुत की चुदाई खुद ही करे जा रही थी और अब मेने आंटी को अपने निचे कर दिआ और खुद ऊपर आ गया। आंटी के बूब्स कुछ देर तक चाटने के बाद आंटी की चुत में वापस से अपना लंड घुसा डाला। 

अब मेने तेजी से आंटी की चुत मारनी शुरू कर दी जिससे वह बहुत ही ज्यादा मजे लेने लगी और मुझे अपनी और खींचते हुए मेरा नाम लेने लगी। आंटी की चुत ज्यादा न चुदने से अभी भी टाइट थी इसलिए मुझे चुदाई में और भी मजा आ रहा था। 

अब ऐसे ही आधे घंटे की चुत चुदाई के बाद मेरे लंड से पानी आना शुरू हो गया था और आंटी की चुत में मेने अपना लंड और भी ज्यादा गहराई में देना शुरू कर दिआ। आंटी आअह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह करते हुए मुझसे चुदाई करवाने लगी। 

पर अब मेरे लंड से पानी आने ही वाला था इसलिए मेने अपनी पड़ोसन की चुत तेजी से चोदी जिससे वह और भी ज्यादा सख्त हो गया और मेरा वीर्य पिचकारी मारता हुआ आंटी की चुत में ही निकल गया जिससे उन्हें एक बहुत अछा बच्चा भी हुआ। 

Leave a Comment