मकान मालकिन को दिआ अपना बड़ा लोडा – 2 

मैंने जब उनको अपनी बांहों में खींचा तो उनके हाथ से चाय की प्याली गिर गयी और मैं उनको वहशी तरीके से चूमने लगा। कभी गर्दन पे, कभी कान पे, कभी चेहरे पे और कभी उसकी चूचियों को।  उसने मेरा चेहरा पकड़ा और अपने मुलायम होंठ मेरे होंठ से भिड़ा दिए। आह … क्या मुलायम … Read more

भाभी के साथ बाथरूम में चुदाई – 3

मैं तेज तेज हांफ रहा था और उनकी बगलों को सूंघ रहा था। मुझे उनका पसीना इतना नशा दे रहा था कि मैं अपनी जीभ से उनकी कांख के बालों को चूसने लगा। साथ ही साथ अपने हाथों से मैं उनके मम्मों को दबाने लगा।  एक स्तन के निप्प्ल को मैं मींजने लगा। पसीना से … Read more

भाभी के साथ बाथरूम में चुदाई – 2

इससे मेरे तनबदन में जोश सा भर गया और मैंने भाभी को अपनी ओर घुमा लिया। अगले ही पल मैंने भाभी के गुलाबी होंठों को चूम लिया। भाभी ने भी प्रतिक्रिया देते हुए मेरे होंठों को चूम लिया। मैं भाभी की जीभ को चूसने लगा।  हम दोनों ही बड़ी बेताबी से एक दूसरे की जीभ … Read more

भाभी के साथ बाथरूम में चुदाई – 1

मैं हर रोज जिम करता हूं जिसके कारण मेरा शारीरिक सौष्ठव भी मस्त है। कोई भी लड़की मुझे देखते ही मेरे बारे में सोच कर अपनी चूत गीली कर लेती है। मैं राँची में जॉब करता हूं और किराए के मकान में रहता हूं।  मेरे पड़ोस में एक मस्त भाभी रहती हैं। उनका नाम अनिमा … Read more

कुवारी दीदी की बुर का मिला स्वाद – 1

मैं आज आपको अपनी मीठी सी काल्पनिक सेक्स कहानी सुना रहा हूँ। ये एक सच्ची पंजाबी गर्ल सेक्सी कहानी है। मेरे पड़ोस वाली हरप्रीत दीदी की उम्र 25 साल है। वो पंजाबी परिवार की हैं।  पंजाबी गर्ल सेक्सी होती हैं। वो बहुत सुंदर हैं। दीदी की शादी की उम्र हो चुकी थी पर उनका रिश्ता … Read more

कुवारी दीदी की बुर का मिला स्वाद – 2

दस मिनट बाद अन्दर से आवाज आई- सोनू अन्दर आ जा। मैं अन्दर गया, तो देखा दीदी ने मिनी स्कर्ट और टॉप पहन रखा था। मैंने पूछा- आप ये पहन कर सोती हैं? दीदी बोलीं- नहीं रे पागल … आज तू है न … इसलिए पहने हैं।  मैंने कहा- मेरी वजह से आप परेशान हों, … Read more

कुवारी दीदी की बुर का मिला स्वाद – 3

आज दीदी ने लाल रंग का सूट पहना था। मैंने कुछ नहीं कहा। तो दीदी बोलीं- सॉरी सोनू। वो मैं बहुत असहज महसूस कर रही थी इसलिए … मैंने कहा- कोई बात नहीं दीदी, ऐसा होता है।  मगर एक बात कहूँ … यदि आप बुरा न मानें। दीदी ने मेरी तरफ देखा और बोलीं- हां … Read more

मै और मेरी चुत की गर्मी की आग – 4

जैसे ही उसका लंड खुला … मैं झट से उसके लंड को पकड़कर हिलाने लगी। उसका लंड धीरे धीरे टाइट होता जा रहा था। कुछ ही पलों में विशु का लंड खड़ा हो गया। लंड के गुलाबी टोपे को मैं अपने मुँह में रखकर चूसने लगी।  मैं उसके लंड को डंडी पर लगी आइसक्रीम की … Read more

मै और मेरी चुत की गर्मी की आग – 3 

कुछ पल बाद वो अपने लंड को बाहर निकालकर मुठ मारने लगा। उसके मुँह से ‘रिंकी दीदी … आंह रिंकी दीदी …’ की आवाज सुन कर मैं भी खुद को रोक नहीं पा रही थी। विशु मुठ मारने में पूरी तरह से लीन हो गया था।  मैं पलक झपकते ही उसके सामने जाकर खड़ी हो … Read more

मै और मेरी चुत की गर्मी की आग – 2

ये सब देख कर मेरे मन में अजीब सी उत्तेजना पैदा हुई और मैं उसे रोक भी नहीं पा रही थी। बल्कि यूं कहूँ कि अपने सामने विशु को मुठ मारते देख मैं खुद को ही रोक नहीं पा रही थी। अब मेरे बस में बात नहीं रही थी।  मैं उसी वक्त नीचे गई और … Read more