सास बहु ननद और चुदाई का रिश्ता – 2 

सासू ने मुझे गले लगाया और मुस्कराती हुई बोली- हाय मेरी बहू रानी … सच तो यह है कि मैं चुदी हुई बहू चाहती थी। मैंने सोचा था कि बहू चुदी हुई होगी तो अपनी सास का भोसड़ा भी चोदेगी और अपनी ननद की चूत में भी लण्ड पेलेगी। 

ऊपर वाले ने मेरी तमन्ना पूरी कर दी। एक राज़ की बात बताऊँ तुम्हें शमीना बहू … मैं भी अपनी शादी के पहले खूब चुदी हुई थी और तेरी बुरचोदी ननद भी खूब चुदी हुई थी अपनी शादी के पहले। इसमें कोई बुराई नहीं है। चुदी हुई होना तो बड़े गर्व की बात है। 

मुझे तो शादी के पहले चुदी हुई होने का गुमान है। इतने में हम सब खूब खिलखिलाकर हंस पड़ी। मेरा ससुर और मेरा शौहर दोनों दुबई में काम करतें है। यहाँ साल में एक दो बार ही आ पाते हैं। इसी बीच हम लोग भी 1-2 बार दुबई चली जाती हैं। 

लेकिन इतने से तो काम नहीं चलता। लण्ड तो हमें रोज़ चाहिए। मेरी सास को भी लण्ड रोज़ चाहिए। हम लोग तो ग़ैर मर्दों के लण्ड के सहारे ही रहती हैं। मेरी ननद की शादी हालाँकि लोकल ही है पर उसका शौहर भी अपने धंधे के कारण अक्सर बाहर ही रहता है तो ननद को भी ग़ैर मर्दों के लण्ड का सहारा ही रहता है। 

इसलिए हम तीनों हमेशा नए नए लण्ड के जुगाड़ में रहती हैं। वैसे देखा जाए तो हमें लण्ड की कमी नहीं है। लण्ड तो हमारे घर खूब आते जाते हैं। पर हां … किसी किसी दिन ऐसा होता है कि एक भी लण्ड नहीं मिलता। 

मालकिन की चुत की करि चुदाई – 1

लंड की प्यास बसी हुई दिल में 

आज शायद ऐसा ही दिन था। उस दिन हम दोनों सास बहू बैठी हुईं थी। मैं अंदर से बहुत चुदासी थी। मुझे लण्ड की बहुत याद आ रही थी। लण्ड मुझे कोई आस पास दिखाई नहीं पड़ रहा था तो मैंने अपनी सास से साफ़ साफ़ कहा- अरे सासूजी, कुछ लण्ड वण्ड का जुगाड़ है या नहीं बहनचोद? 

यहाँ चूत की आग ससुरी बढ़ती ही जा रही है। सास भी सोचने लगी कि हां आज तो अभी तक एक भी लण्ड नहीं मिला। सब के सब मरद मादरचोद गांड मराने चले गए हैं क्या अपनी अपनी! 

तभी अचानक किसी ने दरवाजा खटखटाया। सास ने उठ कर फ़ौरन दरवाजा खोला तो सामने वाला आदमी बोला- आदाब भाभी जान! मेरी सास ने उसे फ़ौरन अंदर बैठाया और बोली- भोसड़ी के अंजुम, तू इतनी दिनों से कहाँ था? 

उसने बताया- अरे भाभी जान, मैं सिंगापुर चला गया था। कल ही वापस आया हूँ। तो सोचा कि पहले रमजाना भाभीजान से मुलाक़ात करूंगा। इसलिए चला आया। मेरी सास ने मुझे उससे मिलवाया, बोली- ये है मेरी शमीना बहू। 

वह बोला- माशा अल्लाह बड़ी हसीन है तेरी बहू भाभी जान! हुश्न तो इसके चेहरे से टपक रहा है। मेरी सास बोली- मुझे तो लगता है कि इसे देख कर तेरी लार टपक रही है। वह बोला- बात तो सही है भाभी जान … इतनी खूबसूरत बीवी बड़े नसीब वालों को ही मिलती है। 

तब सास ने मुझे बताया ये मेरा देवर है बहू रानी। पहले बहुत आता था मेरे पास! आज कई सालों बाद आया है। ये बातें हो ही रही थी कि एकाएक मेरा मामू जान आ गया। मेरी सास तो उसे अच्छी तरह जानती थी, वह बोली- अरे यार रज़ा, अच्छा हुआ तू आ गया। 

मैं तो तुझे याद ही कर रही थी। रज़ा अंजुम से मिलकर खुश हुआ। अब एक मस्त माहौल बनने लगा था … मैं तो अंदर ही अंदर खुश होने लगी। शादी के पहले मैंने मामू का लण्ड दो बार पकड़ा था और एक बार चुदवाया भी था। अब आज मेरा एक लण्ड तो पक्का हो गया। 

मामू जान से चुदाई की ख़ुशी 

लगभग 9 बजे मेरी ननद शबाना भी आ गयी। वह भी अपने देवर के साथ आयी थी, मैंने उसके इस देवर को पहली बार देखा। ननद बोली- ये मेरा देवर असद है अम्मी जान! असद लगभग 22 / 23 साल का होगा पर था वह बड़ा स्मार्ट और हैंडसम। 

मेरे मन में आया कि इसका लण्ड तो एकदम नया ताज़ा होगा और बड़ा मज़ा देने वाला होगा। अगर ये आज रात में रुक गया तो मैं इसको नंगा जरूर कर दूँगी और फिर इसके लण्ड का पूरा लूंगी। 

मैंने जब सास की तरफ देखा तो मालूम हुआ कि वह तो पहले से ही असद के ऊपर नज़रे गड़ाए हुए बैठी है। रात को जब हम सब बिस्तर पर आ गए तो सारे मर्द हमको बड़ी हसरत भरी निगाहों से देखने लगे और हम तीनों मर्दों को ललचाई नज़रों से देखने लगीं। 

मेरा चचिया ससुर कुछ ज्यादा ही मेरे ऊपर मेहरबान था। मुझे देखते देखते उसने अपना हाथ मेरे हाथ पर रख दिया और बोला- बहू रानी तुम मुझे बहुत अच्छी लग रही हो। मेरा दिल तुम पर आ गया है। 

फिर उसने मेरे मम्मे दबा दिया और बड़े प्यार से बार बार दबाने लगा; मेरी चुम्मियाँ लेने लगा। मैं भी उसकी तरफ खिंचने लगी। मेरा भी हाथ उसके लण्ड तक पहुँच गया। जैसे ही मेरा हाथ उसके लण्ड से टकराया तो मेरे बदन में करंट लग गया। 

तब तक मैंने देखा कि मेरी सास ने असद को अपनी तरफ खींच कर अपने बदन से चिपका लिया, बोली- बेटा असद अपना लण्ड दिखाओ मुझे! मैं बड़ी बेताब हो रही हूँ तेरा तारो ताज़ा लण्ड देखने के लिए। उसने असद का पजामा खोला और हाथ अंदर घुसेड़ दिया। लण्ड उसका खड़ा था। सास ने लण्ड बाहर निकाला और ताबड़ तोड़ उसकी कई चुम्मियाँ लीं।

सास बहु ननद और चुदाई का रिश्ता – 3

Leave a Comment