साली आधी घरवाली बनाकर पूरी रात चोदा

मेरी शादी को अभी कुछ महीने ही हुए थे पर मेरे दिल में शुरू से ही एक दुःख बना हुआ था। ततो बात कुछ यु थी की मेरी जो साली थी मेरी बीवी से भी ज्यादा सुन्दर और दिखने में सेक्सी थी जिसपर मेरा दिल आ गया था। 

पर अब शादी होने के बाद मै कुछ कह भी नहीं सकता था और साली होने की वजह से मै उससे बस मजाक और मस्ती ही कर पाता था। पर अब  मेरी हवस मेरी साली के लिए बढ़ती ही जा रही थी। 

और मै अब जब भी अपनी बीवी की चुदाई करता था तो मुझे अपनी साली की भी बहुत ज्यादा आने लगती थी। तो अब मेने कुछ दिन सोचने के बाद एक प्लान बनाया जिससे मै अपनी साली को दबोच सकू। 

मेने अब अपनी बीवी से कहा की उसकी बेहेन काफी दिनों से हमारे घर नहीं आयी है और शादी के बाद हमे उसे खाने पर भी नहीं बुलाया है जो की एक तरह की रसम होती है। 

मेरी बायत सुनने के बाद मेरी बीवी ने भी मेरी हां में हां मिला दी और मेने अपनी साली को फोन करके कुछ दिनों के लिए घर पर बुला लिआ। अब अगले ही दिन मेरी साली अपने कुछ कपडे लेके घर पर आ गयी। 

मेरी साली की उम्र भी ज्यादा नहीं थी और वह दिखने में मेरी बवि से भी ज्यादा सुन्दर और हॉट थी।  रात का खाना खाने के बाद मेरी बीवी ने मेरी साली को उसका कमरा दे दिआ और  लोग सोने के लिए चले गए। 

लंड की प्यासी 2 बहने – हवस, चुदाई और सेक्स 

साली को अकेले में पकड़ा 

अब अगले दिन मुझे पता था की मेरी बीवी को मंदिर जाना होता है इसलिए मै भी जल्दी से उठा नहीं और अब मेरी बीवी मंदिर जा चुकी थी। मंदिर हमारे घर से काफी दूर था जहा आने जाने में भी सम्मय लगता था। 

अब मै जल्दी से उठ कर ऊपर चला गया और अपनी साली के पास पहुंच गया। मेरी साली अभी ब्रश ही कर रही थी और मुझे देखकर वह हसने लग गयी क्युकी मेरे बाल सोने की वजह से बहुत उलझ गए थे। 

अब कुछ देर बाद मै भी नाहा कर आए गया और मेरी साली भी अब नहाने के बाद अपने कमरे में बैठी थी। मै अब उसके पास जाके बैठ गया और मजाक करते हुए उसकी तारीफ़ करने लगा। 

मेरी साली भी मेरी बातो का खूब मजा ले रही थी और अब बात को आगे बढ़ाते हुए मेने अपनी साली से कहा की वह भी मेरी घरवाली की ही तरह है और उसे मेरी किसी भी बात से बुरा लगे तो वह मुझे बोल सकती है। 

मेरी साली हसी और मुझे कहने लगी की हां वह मेरी घरवाली है पर आधी। मेने भी उसकी हां में हां मिलाई और मेने कहा की इसका मतलब मेरे पास आधे हक़ भी पति। 

मेरी साली हस्ते हुए मेरी हां में हां कर रही थी और मेने अब अपनी साली की कमर पर हाथ रखते हुए उसे थोड़ा अपनी तरफ किआ और कहा की फिर मेउसे आज आधे घरवाले की तरह ही प्यार करूँगा। 

मेरी साली ने मेरी इस बात पर कुछ भी नहीं कहा और कुछ देर तक वह बहुत ही आराम आराम से हस्ती रही। अब मेने अपनी पकड़ को थोड़ा और टाइट किआ और अपनी साली के गालो पर एक चुम्बन कर दिआ। 

ऑफिस की लड़की ने दिआ चुदाई का मौका

साली को रात में भी चोदा

 अब गाल पर चुम्बन करने के बाद मेने अपनी साली को देखा तो वह अपनी आंखे बंद करके  मुस्का रही थी जिससे मेरी हिम्मत और भी ज्यादा बढ़ गयी। मेने अब अपनी होठ आगे किये और अपनी साली के होठो से मिलाके चूसने लगा। 

मेरी साली भी मेरा खूब साथ दे रही थी और मुझे चूमे जा रही थी।  कुछ देर बाद मेने जल्दी जल्दी अपनी साली के बदन को चूमते हुए उसके कपड़ो को उतार दिए और नंगा करके प्यार करने लग्गा। 

वह भी हवस से भर चुकी थी और मेने अब अपना पजामा थोड़ा निचे किआ और लंड को चुत पर सेट करते हुए चुदाई का काम शुरू कर दिआ। मेरी साली  भी आह आह करके चुदाई के मजे ले रही थी और  चुदाई से मेरे लंड से पानी जल्दी ही निकल गया। 

मेरी बीवी के आने का भी अब समय हो गया था और इस चुदाई के बाद मेने अपनी साली से कहा की मै  उससे शाम के समय मिलूंगा और रात होने के बाद मेने साली को जगाया और बीवी के सोने के बबाद मेने अपनी साली की रात भर चुदाई करि। 

Leave a Comment