स्कूल में चुदाई का खेल – पोर्न मोवीज का शोक और सेक्स

यह कहानी हमारे ही एक पाठक ने हमसे साझा करि है। अगर आप भी अपनी कहानिआ हमारी वेबसाइट पर डालना चाहते है तो आप हमारे contact us पेज से हमें सम्पर्क कर सकते है। 

हेलो दोस्तों यह बात तब की है जब मै 11 वी क्लास में था और मेरी बदन की गर्मी उबाल मारने लगी थी। मेरा लंड स्कूल टाइम में कभी भी खड़ा हो जाया करता था जिसकी वजह से मुझे कभी कभी बहुत दिक्कत भी आती थी। अब यही हाल इस उम्र में हर बचे का होता है चाहे वह लड़का हो या लड़की। हमारी क्लास में कई बचे अपना फोन भी लाया करते थे जिसे लेकर मै और मेरा दोस्त पोर्न मूवीज देखा करते थे। 

अब यह बात हमारे साथ में ही बेंच पर बैठने वाली लड़की को पता चला गयी। लंच होते ही उस लड़की ने मुझे अपने पास बुलाया और मुझे फोन के बारे में पूछते हुए कहा की हम हर दिन फोन में ऐसा क्या देखते है जो है हर लड़का उत्सुक होते हुए तुम्हारे साथ बैठते है। 

मै उसे कुछ भी जवाब ना दे पाया और कुछ ही समय बाद सभी लड़के मेरे पास आकर बैठ गए और हम दोनों पोर्न देखने लगे। मेरे साथ में बैठने वाली लड़की का नाम पूजा था जो हमारी क्लास की एक शरारती लड़की भी थी। पूजाने कुछ देर बाद मुझसे दुबारा फोन के बारे में पूछा और मुझसे फोन देने को कहा। फोन मेरा ना होने के कारण मै उसे मना भी ना कर सका और मैने उसे फोन दे दिआ। 

अब पूजा ने पूरा फोन खोज लिए पर उसे कुछ ना मिला पर जैसे ही वह एक गुप्त फोल्डर में गयी उसे पोर्न का भण्डार दिख गया जो हम रोज देखते थे। पूजा ने भी मजे लेते हुए कुछ पोर्न विडिओस देखि और मुझे फोन वापस दे दिआ। 

सेक्स कहानिओ का भण्डार : Antarvasna Sex Stories

पूजा के साथ किआ पोर्न मूवीज वाला सेक्स 

स्कूल ख़तम होने के बाद पूजा मुझसे मिली और मुझसे कहा की क्या हम रोज वही सब देखते है ? मैने शर्म कहते हुए उसे हां में जवाब दिआ और इसके जवाब में पूजा ने कहा की यह तो सभी लड़कीअ भी देखती है और मै भी हफ्ते में 2 – 3 बार देख लेती हु। पर रोज पोर्न देखने से इसमें वह मजा नहीं आता जो चुदाई  में आता है। 

मैने भी पूजा की हां में हां भर दी और मैने पूजा से कहा की चुदाई में तो अलग ही मजा है जो किसी और चीज में कहा। पूजा ने मुझसे पूछा की क्या मैने पहले कभी किसी की चुदाई करी है ? मैने पूजा से हां में जवाब दिआ और उसे चुदाई के दो तीन तरीके भी गिनवा दिए। पूजा से मैने पूछा क्या उसने अभी तक  किसी से चुदाई नहीं कराई ?

पूजा ने दुःख जताते हुए कहा की मुझे कोई मिला ही नहीं जो मेरी इच्छा को पूरा कर सके। मैने यह सुनते ही पूजा से कहा की एक दोस्त होने के नाते मै उसकी पूरी मदद करूँगा। पूजा भी शायद चुदाई का ख्याल बना चूक थी और मैने पूजा को स्कूल के आडिटोरियम  में अगले खली पीरियड में बुला लिआ। 

पूजा के आते ही मैने चारि तरफ देखा और पूजा को एक कोने में ले गया। हमारा आडिटोरियम ज्यादातर खली ही पड़ा रहता था जिसमे कभी कोई काम भी नहीं होता था। अब जैसे मेने पोर्न में देखा था मैने पूजा की आँखों में देखते हुए उसके बाल उसके गाल से हटाए और उसके होठो के पास जाते हुए उसके होठो पर अपने गर्म होठ रख दिए। 

पूजा पूरी सुन हो गयी थी और दूसरी तरफ मै उसके होठो का रसपान किये जा रहा था। कुछ देर बाद पूजा भी मेरे होठो को चूसने लगी और मेरा जवाब देने लगी। मेरा लंड एकदम से पूरा खड़ा हो गया था जो पूजा की स्कर्ट पे ऊपर धसा हुआ था। पूजा भी मेरा पूरा साथ दे रही थी अब मेने पूजा को पीछे घुमाया और पूजा की गर्दन पर किस करने लगा। 

मेरा लंड पूजा की गांड की दरार में फसा हुआ था जो शयद उसे भी अचे से फील हो रहा था। पीछे से मेने पूजा के बूब्स अपने दोनों हाथो में भर लिए और दबाना शुरू कर दिए पूजा अपना जिस्म एकदम ढीला करके मेरी बहो में गिरने लगी पर मैने उसके बूब्स बुरी तरह दबाने जारी रखे। पूजा की शर्ट के ऊपर से बटन खोलकर मेने पूजा के बूब्स उसकी ब्रा से अलग करके चूसने शुरू कर दिए। 

पूजा की निप्पल काले कलर के थे जिनपे मै अपनी जीभ फेर रहा था और पूजा को कामुक बना रहा था। पूजा को इस सब में बहुत ही मजा आ रहा था और अब पूजा ने निचे से मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिआ। मैने पूजा के सर पे हाथ रखते हुए पूजा को निचे बिठाया और पूजा के मुह्ह में अपना लंड देके चूसने लगा। आडिटोरियम में हमारी सांसे थोड़ी थोड़ी गूँज रही थी जिससे मेरी गांड भी फट रही थी। 

यह भी पढ़िए : पड़ोसन की सेक्सी बेटी और क्रिकेट बॉल

पूजा की चूत में पेला लंड और करदी चुदाई 

अब मेरा लंड पूरा खड़ा होने के बाद पूजा ने उसे हलाना चालू रखा और वापस किस करना शुरू कर दिआ। अब मेने अपना एक हाथ पूजा को स्कर्ट में डाला और उसकी चूत तक ले गया। पूजा की चूत पूरी तरह से साफ़ थी जिसपे एक भी बाल नहीं था। पूजा शायद कल ही अपनी झांटे काटकर आयी थी। 

अब भी अपनी उंगलिओ को पूजा की चूत की फांको के बिच रगड़ना शुरू कर दिआ जिससे पूजा मुझे बुरी तरह किस करने लगी। पूजा की चूत में मेने अब अपनी एक उंगली डाली और अंदर बहार करना शुरू कर दिआ जिससे पूजा छोटी छोटी आहे भरने लगी। बिच बिच में मै पूजा की चूत के दाने पर अपनी उंगली गुमने लगा जिससे पूजा कसक जाती और मुझे अपनी बाहो में जकड लेती। 

पूजा की चूत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी और चुदाई के लिए भी तैयार थी। मैने पूजा के पीछे जाते हुए उसकी पैंटी उसके घुटनो तक करि और उसे झुकने के लिए बोल दिआ। अब मैने पीछे से अपना लंड उसकी चूत में डाला और धक्का लगाया। धक्का लगाते ही पूजा करहाने लगी और एकदम शांत हो गयी। अब मेने पूजा की चूत में धीरे धीरे अपना लंड आगे पीछे करना शुरू किआ।

पूजा लम्बी लम्बी साँसे ले रही थी और मेरी भी साँसे बहुत गरम और कामुक हो गयी थी। मैने चुदाई की रफ़्तार तेज कर दी जिससे पूजा भी मचलने लगी। कुछ ही देर बाद पूजा दीवार पर हाथ रखकर झुक गयी और मै उसकी गांड पकड़ता हुआ उसकी चुदाई करने लगा। 

मेरा लंड पूजा की चूत में पूरी तरह अंदर बहार जा रहा था जिससे पूजा को भी बहुत मजा आ रहा था और हम दोनों चुड़ाईका अचे से मजा ले रहे थे। अब मेने पूजा की चूत से अपना लंड निकला और उसे अपनी गोदी में सामने की तरफ से उठाते हुए लंड उसकी चूत में वापस पेल दिआ। दीवार पर अपनी पीठ लगते हुए पूजा को मै अपने लंड पर उछलते हुए चुदाई का मजा दे रहा था और किस कर रहा था। 

पूजा भी आंखे बंद करती हुई मुझसे चुदाई करवा रही थी और मेरी गर्दन पे अपनी भीगे होठो से चुम्बन किये जा रही थी। मेरा लंड अब झड़ने ही वाला था इसलिए मेने पूजा को उसके मुह्ह पर हाथ रखने को कहा और अपनी चुदाई की रफ़्तार फुल तेजी में कर दी जिससे पूजा अह्ह्ह अहह की आवाजे मुह्ह बंद करते हुए निकालने लगी और कुछ ही देर बाद मेने पूजा की चूत से लंड निकाला और पूजा के मुह्ह में ही अपना वीर्य गिरा दिआ 

Leave a Comment