पड़ोसन का शराबी पति और उसकी चुदाई की प्यास

हमारे साथ वाले ही घर में एक औरत रहने आयी थी पर जब से वह यहाँ रहने आयी थी  उसके घर में रोजाना ही लड़ाई होती रहती थी। उसका पति भी उसे कभी कभी मरता था जिसकी आवाज हम सुन लेते थे। 

मेरी मम्मी उसे बहुत समझाती थी की वह अपने पति से शराब पिने के लिए मना करे पर उसका पति उसकी कभी  सुनता ही नहीं था। उसका पति बहुत ही ज्यादा दारू पीना शुरू हो गया और रात को वह अपने घर भी नहीं आता था। 

पड़ोसन रात रात भर देखती रहती थी पर उसका पति आता ही नहीं था। मुझसे उसे ऐसे देखना नहीं जाता था क्युकी वह अभी भी जवान थी और दूसरी शादी भी कर सकती थी। 

मेरी मम्मी से बात करते हुए वह रो रही थी की उसका पति उसे जीने नहीं  है तो तभी मुझे गुस्सा आ गया और मेने उसे कह दिआ की उसकी अभी कोई औलाद भी नहीं है और वह इतनी सुन्दर है तो दूसरी शादी कर ले। 

उसने मुझे चौकी हुई नजरो से देखा और मेरी मम्मी ने मुझे अगले ही पल डाटके घर में भेज दिआ। कुछ ही पल बाद मै यह सब भूल गया पर शायद मेरी यह बात मेरी पड़ोसन के दिल पर लग गयी थी। 

अभी रात हो चली थी थी और वह आज अपने दरवाजे पर नहीं थी। मेने  कुछ देर उसका इन्तजार किआ और वह कुछ ही समय बाद बाहर आयी और मुझे देख के खुश हो गयी। 

मेने उसे देखा और कहा की आज वह इतनी खुश क्यों है तो उसने मुझे कहा की आज उसे कुछ बहुत ही अछि बात समझ आयी है जिसकी वजह से वह आज बहुत खुश है। 

आंटी ने जबरदस्ती चुदवायी अपनी चुत 

पड़ोसन हो गयी मेरी बातो से फ़िदा 

मेने भी हसकर उसे देखा और कहा की यह तो बहुत ही ज्यादा अच्छा है और वह  खुश ही रहा करे। उसने मुझे देखा और कहा की मै इतनी रात को बाहर क्यों खड़ा हु तो यह सुन मै अपने घर में ही चला गया और सो गया। 

अब अगले दिन से मेरी पड़ोसन मुझे देख देख के हसने लगी। आज भी रात हो चली थी और मेरी उससे बात होने लगी और उसने मुझे कहा की क्या आज भी वह सुन्दर दिख रही है ?

मेने हां भरी और कहा की वह आज भी सुन्दर दिख रही है। उसने अगले ही पल मुझे बोल दिआ की तो चली हम दोनों शादी कर लेते है। मै चौक गया और वह हसने लगी। मुझे सब मजाक लग रहा था और मै भी हसना लगा। 

उसने अब कुछ देर बाद कहा की वह मुझे पसंद करती है और मुझ से सच में शादी  चाहती है। मेने उसे कहा की शादी शुदा है और मै ऐसा बिल्कुल भी नहीं कर सकता। पड़ोसन ने कहा की वह मुझ से प्यार करती है इसके आलावा उसे कुछ भी नहीं पता। 

वह यह सब बहुत ही तेज तेज बोल रही थी इसलिए मेने उसे कहा की वह अभी अंदर चली जाए और यह बात हम कल करेंगे। उसने कहा की यह बात उसे अभी करनी है इसलिए मै भी उसके साथ अंदर चलु। 

मुझे पता था आज भी उसका पति नहीं आने वाला है इसलिए मै उसके साथ अंदर चला गया और बाते करने लगा। अब उसने मुझे अपनी बाहो में लिए और  कहने लगी की वह मुझ से बहुत प्यार करती है। 

चाची की जवानी की करि चुदाई और  चूसे बूब्स

पड़ोसन की करि चुत चुदाई 

मै भी इसके जवाब में क्या ही बोलता और मै चुप रहा और अब वह गए आयी और उसने मुझे चूमना शुरू कर दिआ। मै भी मर्द था और अब मेरी हवस भी काबू से बाहर हो गयी। 

हम दोनों के होठ मिले और हम दोनों एक दूसरे को चूमने लगे। उसने मुझे बिस्तर पर गिराया और मेरे ऊपर आकर मेरे कपड़ो को खोलते हुए जिस्म को चूमने लगी।  कुछ ही देर में मेरा लंड खड़ा हो चूका था और उसने मेरे लंड को हाथ में ले लिआ और हिलाने लगी। 

मुझे बहुत मजा आने लगा और अब मेरी पड़ोसन ने अपने कपडे भी खोल दिए और मेने उसे अपने निचे कर दिआ। हम दोनों नंगे हो चुके थे और मेने उसके बूब्स को चूसते  हुए अपनी उंगली चुत में घुसा दी जिससे थोड़ी जगह बन जाए। 

अब मेने उसकी टाँगे खोली और जल्दी से चुटकी अंदर लंड घुसा दिआ और चुदाई शुरू कर दी। वह भी मुझे अपनी तरफ खींच रही थी और निचे मै अपने लंड से जोर जोर से धक्के मार रहा था जिससे उसकी आहे निकल रही थी। 

चुदाई पूरी गरमा गर्मी से हो रही थी और हम दोनों ही चुदाई करते हुए हाफ रहे थे। मेरे लंड से पानी आने वाला था और मेने अपना लंड उसकी चुत से निकाल मुह्ह में दे दिआ।

मेरी पड़ोसन ने मेरे लंड को अब अच्छे से अपनी जीभ से चाटते हुए जोर जोर से चूसा और कुछ ही मिनटों में मेरे लंड से वीर्य निकल गया और जो वह पी गयी। 

Leave a Comment