बेहेन ने करि मेरे लंड की सवारी – 2 

जैसा की अआप सब पढ़ ही चुके है मेरी बेहेन ने अपने कपडे खोल कर मेरे सामने खुद को नंगा करना शुरू कर दिआ था और एक मजाक की वजह से वह ऐसा सब कर रही थी। 

मेने अब उसे कहा की मेने उसे यह तो  नहीं कहा था की मै उसे नंगा देखना चाहता हु मेने तो उसे छत वाले कपडे उतारने के लिए ही कहा था। मेरी बेहेन ने मुझे कहा की मेरा मतलब यह था जो वह अभी कर रही है। 

और अगर मुझे उसे अच्छे से देखना है तो अब वह अपने बाकि के कपडे भी निकाल रही है। ऐसा कहने के बाद अब उसने अपनी ब्रा का हुक  पीछे से खोला और ब्रा को खोल कर निचे गिरा दिआ। 

अब उसके बूब्स मुझे साफ साफ दिख रहे थे जिन्हे देख कर मेरे लंड में तनाव आना शुरू हो गया था पर मै अभी भी बैठा  हुआ था जिससे मेरा लंड मेरी बेहेन को नहीं दिख रहा था। 

अब मेरी नजर उसके बूब्स पर से हट ही नहीं रही थी और वह भी मुझे द्देख कर खुद में ही खुश हो रही थी  और अब मुझे  उनसे कहा की अगर मै चहु तो उन्हें छू भी सकता हु जैसा की मै चाहता हु। 

अब मै चौक गया और मेने उसे कहा की मेने तो उसे ऐसा कभी बोला ही नहीं की मै उसके जिस्म को छूना चाहता हु। उसने कहा की वह मुझे रोज देखती है की मै किस तरह से उसे देखता हु और वह सब जानती है की मै क्या क्या चाहता हु। 

बेहेन ने करि मेरे लंड की सवारी – 1

बेहेन के जिस्म को सही से चूमा 

इतना सुनंने के बाद अब मेरा भी खौफ खतम हो गया था और मेने उसे कहा की अगर वह  इतना सब ही जानती है तो अपना बाकि का जिस्म भी मुझे दिखा ही दे जो की मेरी दिल की तमन्ना है। 

अब उसने मुझे कहा हां वह ऐसा भी करने ही वाली थी और उसने अब अपनी पैंट के बटन को खोला और अपने ही पल निचे कर दिआ जिससे उसकी काली  रंग की पैंटी दिखने लग गयी। 

 मुझसे अब रहा नहीं गया और मेने उसे अब अपनी तरफ खींच कर चूमना शुरू कर दिआ और वह भी मुझे अब जोर जोर से चूमे जा रही थी। उसे देख मेरा दिल पहले से ही ताज चल रहा था। 

मैंने उसके बूब्स को जोर जोर से दबाते हुए उसके होठों को चूमा चालू रखा और कुछ देर बाद अपने होठो से बूब्स की निप्पलों को भी जोर जोर  से चूसा जिससे वह बहुत ही ज्यादा कामुक हो गयी।  

उसकी बूब्स की दोनों निप्पल खड़ी हो गयी थी जिन्हे मै अपने हाथ से भी मसल रहा था और वह आह आह करते हुए उसका मजा ले रही थी। अब मेने अपना एक हाथ उसकी चुत के ऊपर भी रख लिआ और उसे सहलाने लगा। 

उसकी चुत पहले से ही गीली हो चुकी थी और मेने उसे मसल कर अब  उसे और भी ज्यादा चुदाई के लिए कामुक कर दिआ। अब मेने अपना लंड निचे पजामे में से निकाल कर उसकी चुत पर रख दिआ। 

चाची को पकड़ा चुत मसलते हुए

सौतेली बेहेन को चोदा 

अब छेद के ऊपर लंड देते हुए मेने उसकी चुत में अपना लंड पूरा दे दिआ और उसकी चुदाई चालू कर दी। उसका मोटा शरीर चुदाई के साथ आगे पीछे हो रहा था और मै पूरी तेजी से उसकी चुदाई में जुट गया। 

वह आह आह करते हुए ममेरे जोश बढ़ा रही थी और मै भी उसकी चुत में बिना रुके ही धक्के पे धक्के दिए जा रहा था। चुदाई काफी तेजी से हो रही थी और साथ ही साथ मै उसके बूब्स और होठो को भी बिच बिच में चूस रहा था। 

मेने अब अपना लंड निकला और उसे घूम कर लेटने के लिए बोला और पीछे से वापस से उसकी चुत में लंड घुसा दिआ। अब मेरा लंड उसकी चुत पर तेजी से रगड़ कहा रहा था जिससे वह बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो गयी और आहे जोर जोर से लेने लगी। 

मम्मी अभी भी निचे ही थी इसलिए मेने अब अपने हाथ से उसका मुहहह पपकड़ा और लंड पूरी तरह से चुत में घुसा दिया और चुदाई करता रहा। वह दबे मुह्ह से ही आह आह उह्ह्ह ुह्ह्ह्ह करती रही थी और मै उसकी चुदाई करता चला गया और कुछ ही देर बाद मेरे लंड से भी पानी निकल आया। 

Leave a Comment