टूशन टीचर की हवस और चुदाई का किस्सा – घोड़ी बनाकर करी दबादब चुदाई

नमस्कार मित्रो, जैसा की आप जानते है यहाँ हम रोज रोज चुदाई के किस्से लाते है जो की हवस और जिस्म की आग से भरे पड़े  है। तो ऐसा ही एक और किस्सा पढ़िए जिसमे मैने कैसे अपनी ही एक टूशन टीचर की चूत की जोरदार चुदाई करी और हवस बुझाई।

यह बात मेरी 12वी क्लास की है जब मै पढाई में बहुत ही कमजोर था और पास होने के लिए बहुत सी टूशन का सहारा लिए करता था। और इन्हीं सब टूशन में से एक था हमारी मोनिका मैडम का टूशन। यु तो हम सभी लड़के मोनिका मैडम के यहाँ पढ़ाई करने जाते थे पर सिर्फ नाम के लिए। मोनिका मैडम की अभी शादी नहीं हुई थी और उनकी जवानी को देख हम सभी लड़के अपने अपने लोडे सँभालते रह जाते थे। हम रोज मोनिका मैडम की चुदाई के सपने देखा करते थे। मैडम के बूब्स एकदम उभरे हुए और गोल थे जो उनके सूट जो चीरकर बाहर से आने को  दिखते थे , और मोनिका मैडम जब भी पैंट पहनती थी उनकी मोती और गोल गांड को देखने से हम बहुत ही खुद हो जाया करते थे। 

मोनिका मैडम के मजाक से खड़ा हुआ मेरा लंड 

ऐसे ही हमारे दिन बीत रहे थे और हम रोज रोज मोनिका मैडम की जवानी देखकर अपने दिनों को तसल्ली दे रहे थे। एक दिन की बात है, मोनिका मैडम ने हम सभी को कुछ प्रशन करने के लिए बोला जो मै सही नहीं कर पाया। और सजा के तोर पर मैडम ने मुझे अपने घर पढ़ी रुकने के लिए कहा।  यह मेरे लिए सजा से काम मजेदार चीज बन गयी थी क्युकी अब मै मैडम के साथ उनके घर पर अकेला था। मुझे सोफे पर बिठाते हुए मैडम नहाने के लिए ऊपर चली गयी। कुछ समय बाद मैडम ने मुझे आवाज लगाते हुए तोलिआ देने के लिए कहा जो की मेरे साथ में ही सोफे पर पड़ा था। 

अब बाथरूम के दरवाजे पर पहुंचकर मैने दरवाजा बजाया और मैडम को तोलिआ देने के लिए हाथ बढ़ाया। मैडम ने तोलीआ के साथ मेरा हाथ भी पकड़ लिआ और मुझे अंदर खींचने लगी और एकदम ही तोलिआ लेकर अंदर वापिस चली गयी। अब शावर चलने की आवाज आने लगी और मैडम भी गाना गाते हुए नहाने का मजा देने लगी। अब मेरा लंड एकदम खड़ा हो गया था और उसे सहलाते हुए मै अपना लंड शांत कर रहा था। वही बिस्तर पर बैठकर मै मोनिका मैडम की आवाजे सुन रहा था और मजे ले रहा था। 

Also Read: गांव की भाभी की कसिली चूत चोदी

मैडम को नंगा देख जागी हवस और मैडम को मनाया 

कुछ समय नहाने के बाद मैडम ने शावर बंद कर दिआ जिसकी आवाजे बाहर भी आना बंद हो गयी। अब एकदम से दरवाजा खुला और मैडम बिना कुछ पहने ही बाथरूम से बहार आ गयी। मोनिका मैडम का पूरा बदन पानी से भीगा हुआ था और बूब्स बहुत ही सुन्दर और लटके हुए दिख रहे थे। मैडम मुझे देख कर चौक गयी थी और मेरा लंड भी अब मोनिका मैडम को सलाम करने लगा था। मैडम ने अब अपना पूरा शरीर उसी तोलिये से ढक लिआ अब मैडम मुझपर बहुत ही गुस्सा हो रही थी और मुझे उनके कमरे में बैठने के लिए डाट भी रही थी। पर मै अब बुरी तरह अपनी हवस में खो चूका था और अपने लंड को थामता हुआ मैडम को ही देख रहा था।  मोनिका मैडम ने मेरे खड़े लंड की और इशारा करते हुए मुझे कहा की जाओ बहार जाओ और इसे भी अपने साथ ले जाओ।  

मै अभी भी उनके बिस्तर पास बैठा था और उनको चोदने का विचार कर रहा था। मैडम अबतक मेरे विचार भी भाप गयी थी और मेरे खड़े लंड को देख रही थी।  मैडम ने मुझसे कहा की तुम ये सब भूल जाना होगा और किसी से भी ना कहने की कसम खानी होगी।  

मोनिका मैडम को रोकते हुए मैने उनसे कहा की मुझे सब मंजूर है पर मेरी भी एक शर्त है जो उन्हें माननी होगी। मैने मैडम को कहा की आपको यह तोलिआ वापस हटाना है जैसे आप पहले की तरह बाहर आयी थी। मोनिका मैडम घबराने लगी और मुझे कुछ और मांगने के लिए कहने लगी। मैने मना करते हुए अपनी बात मनाने के लिए उनसे दुबारा यह बात कही और बिस्तर से उठते हुए घर जाने का नाटक करने लगा। अब मैडम डर गयी और मुझे रुकने को कहा।  कुछ समय लेते हुए मोनिका मैडम ने अपनी आँखे वापस बंद करि और अपना तोलिआ निचे गिरा दिआ। मोनिका मैडम अब किसी नंगी अप्सरा जैसी लग रही थी जिनकी कमर पतली बूब्स बड़े बड़े और चूत एकदम चिकनी और साफ़ थी।  

मैडम को किआ गरम और उठा उठा कर चोदा 

मैडम को देख अब मै खुद पर काबू नहीं कर पा रहा था। मैडम को मैने अब थोड़ा घूमने के लिए कहा और मैडम के घूमते ही उनकी मोटी गांड मेरी आँखों के सामने थी जिसे चोदने के हम दिन रात सपने देखा करते थे। अब मैडम के घूमते ही मैने मैडम को पीछे से जाकर अपनी बहो में भर लिआ और उनके गले पर किस करने लगा। मेरा विरोध करने के बजाए मैडम ने भी मुझे जोर से जकड लिआ और अपना मुह्ह घुमाते हुए मेरे होठो पर अपने होठ रखकर चूसने लगी।  अब मैडम की हवस भी जाग चुकी थी और वो भी अपनी सारी शर्म छोडकर मुझे और मेरे होठो को चूमे जा रही थी। कुछ समय बाद मोनिका मैडम ने मेरे भी कपडे खोला शुरू कर दिए और अब हम दोनों एक दूसरे के सामने नंगे खड़े थे और प्यार कर रहे थे।  

बिस्तर पर लिटाते हुए मैने मैडम के बूब्स चूसना शुरू कर दिए जिससे मोनिका मैडम पागल सी होने लगी ओर आहे भरने लगी। अब मेरा लंड भी मैडम के पेरो और पेट पर छुए जा रहा था जिसे मैडम ने अपने हाथो पकड़ा और मुझे लिटाकर चूसने लगी।  मैडम मेरे लोडे पे अपने कोमल होठो से चुसाई किये जा रही थी जिससे भी जन्नत में खो गया था। मोनिका मैडम किसी गुलाब की तरह मेरे लंड को अपने होठो से चूस रही थी। अब पूरा लंड खड़ा होते ही मेने मोनिका मैडम की चूत पर हाथ फेरते हुए अपना लोडा मैडम की चूत पर रख दिआ और रगड़ने लगा। 

मैडम अब पूरी तरह हवस से भर गयी थी और मुझे चुदाई करने के लिए बोले जा रही थी।  मैने भी एक जोर के धक्के से मोनिका मैडम की चूत की सील तोड़ते हुए अपना लंड पूरा घुसा दिआ। अब मैडम भी आंखे बंद करके चुदाई के पूरे मजे ले रही थी और मै भी अपना लंड पूरा अंदर बाहर किये जा रहा था।  मोनिका मैडम अपने बाल खींचते हुए आह्हः ओहहहहह की आवाजे निकाल रही थी जिससे मुझे भी जोश आ रहा था और मेरे झटके तेज हो रहे थे। अब मैने मैडम को घोड़ी बनाते हुए अपना लंड उनकी चूत में पीछे से घुसाया और चुदाई शुरू कर दी।  हम दोनों ही अपने पूरे झटके देते हुए चुदाई के मजे ले रहे थे जिससे मेरा लंड अब झड़ने वाला था। कुछ और देर की चुदाई के बाद मेरे लंड भी हार मान ली और झड़ने के लिए मैने उसे चूत से बहार निकाल कर माल बहार फेक दिआ। 

पर अभी तक मोनिका मैडम की चूत ठंडी नहीं हुयी थी और वह अपनी चूत सहलाये जा रहो थी।  अब मैडम को किस करते हुए मैने  मैडम की चूत में 2 उंगलिअ डालते हुए हाथ घिसना शुरू कर दिए और ऐसे ही कुछ मिनट बाद मैडम भी मेरे हाथ पर झाड़ गयी और चूत का सारा पानी बिस्तर पर ही निकाल दिआ। मै अभी भी मोनिका मैडम से मिलता रहता हु और उनकी शादी के बाद भी चरमसुख का आनंद देता हु। 

सबसे मजेदार कहानी : किस्सा मेरी हवसी गर्लफ्रेंड की चुदाई का

Leave a Comment