ठंड में मौसी की चुत से निकाल दिआ पानी – 1 

मेरी मौसी की अभी शादी नहीं हुई थी और मै आपको पहले ही  मौसी दिखने में किसी लड़की से काम नहीं था। मौसी का रंग बहुत ही ज्यादा गोरा और उनका शरीर काफी भरा हुआ था। 

मौसी को देख कर मेरी हवस हमेशा ही जाग जाती थी जिसके बाद मुझे कई कई बार मुठी भी मारी पड़ती थी। इस चीज से मै परेशान हो चूका था और मेने अब मौसी की चुदाई करने का मन बना लिआ था। 

हम हर साल 2 बार नानी के घर जाया करते थे और इस बार मेने इन्ही दिनों में मौसी को चोदने का प्लान बनाया। अब सर्दी के दिनों में मम्मी के साथ मै नानी के घर चला गया जहा मौसी भी थी। 

मौसी से मेरी ठीक ठाक बनती थी पर अब मेरी उम्र ज्यादा हो गयी थी इसलिए हम दोनों कम ही बाते किआ करते थे। अब ऐसे ही मौसी से बाते करते हुए मै उनके साथ ही बिस्तर में पड़ा हुआ था। 

रजाई काफी गरम हो रखी थी पर मेरे पैर अभी ठंडे ही थे। मेने अब अपने पैर मौसी के पैर पर लगा दिए जिससे मौसी ने अपने पैर जल्दी से दूर कर दिए। मौसी ने मुझ से कहा की उनका शरीर गरम है इसलिए मै उनक फायदा ना उठाऊ। 

हम दोनों ही अब इस बात पर हसने लग गए और मेने मौसी से कहा की अगर ही इतनी ही ठंडी लगती है तो हम घर में हीटर लगवा लेते है जैसे की होटलो में होता है और वह कोई किसी के शरीर का फायदा भी नहीं उठा पायेगा। 

बुआ की मालिश करि तेल के साथ और ली चुदाई 

मौसी को ले गया होटल और किआ गरम 

मौसी इस बात पर भी हसने लगी और कहने लगी की हमारे पास इतना पैसा नहीं है और मेने अब अगले ही पल कहा की तो क्यों ना हम दोनों होटल में कुछ दिनों के लिए रहने चले ?

मौसी ने कुछ देर इस बात को सोचा और कहा की ठीक है हम दोनों दो दिनों के लिए बाहर चलते है पर घर में किसी को भी यह बात पता नहीं चलनी चाहिए।अब हम दोनों ने एक होटल फोन से ही बुक कर दिआ। 

अगले दिन सुबह सुबह ही मै और मौसी होटल पहुंच गए और हमने अपना कमरा लिआ। कमरा बहुत ही ज्यादा अछा था और मौसी ने मुझे हीटर दिखते हुए कहा की आज हम दोनों को गर्मी लगने वाली है। 

मेने भी हामी भरी और थोड़ा बहुत बाहर घूमने के बाद वापस होटल आ गए। अब रात हो चली थी और मेने और मौसी ने खाना खाने के बाद कुछ देर टीवी देखा और अब सोने का समय हो गया। 

मेने मौसी से कहा की वह हीटर तेज कर दे। अब कुछ ही देर में कमरा बहुत गरम हो चूका था और हम दोनों ने ही अपना अपना कम्बल निचे डाल दिआ। अब मौसी ने मुझसे कहा की यह कमरा तो बहुत गरम हो गया है तो क्या हम हीटर बंद कर दे ?

मेने मौसी से मना कर दिआ और कहा की अभी कुछ देर और हीटर चलने दे और वह चाहे तो कुक हलके कपडे पेहेन ले जिससे उन्हें गर्मी ना लगे। मौसी ने अब हलके से कपडे पेहेन लिए और मेने उच्च देर बाद हीटर बंद करा दिआ। 

लोडे की प्यास और मेरी चुत की गर्मी

मौसी चिपक गयी मेरे जिस्म से 

अब कुछ देर बाद हम दोनों ही सो गए पर अब फिर से कमरा ठंडा हो चूका था और मौसी के छोटे कपड़ो की वजह से उन्हें ठंडी लग्न शुरू हो गयी थी। मौसी धीरे धीरे मेरे करीब भी आ रही थी और उनके पैर मेरे पेरो पर थे। 

मेने मौसी से कहा की क्या वह अब मेरे जिस्म की गर्मी का फायदा ले रही है और अब मै हसने लगा। मौसी ने कहा की उन्हें बहुत ठंडी लग रही है इसलिए वह मेरे करीब आए गयी है। 

मेने कहा की अगर वह चाहे तो मेरे और करीब आ सकती है क्युकी मै पूरा का पूरा गरम हु। क्कुह ही देर में मौसी मेरे जिस्म से चुपकी हुई थी और मेरा हाथ उनकी कमर पर था। 

उनके बूब्स मेरे जिस्म से चुपके हुए थे और हम दोनों के शरीर की गर्मी बढ़ती ही जा रही थी। मेरा हाथ मेने धीरे धीरे मौसी की गांड पर भी कर लिआ था और छोटे कपड़ो की वजह से उनकी पूरी टाँगे नंगी थी जिनपर मै हाथ फेर रहा था। 

मौसी भी अब थोड़ी लम्बी साँसे ले रही थी और ठंडी न लगने के बाद भी मेरे जिस्म से चिपकी जा रही थी। मेरा लंड भी खड़ा हो चूका था और पजामे की वजह  मौसी की जांघो में लग रहा था। 

अब मौसी भी समझ चुकी थी की मै उनके शरीर से खेलना चाहता हु और मौसी भी अपने बूब्स ऊपर करते हुए हल्का सा ऊपर हुई और मेरी आँखों में देखने। 

 अगले ही पल अब हम दोनों बहुत करीब थे और हमारी सांसे एक दूसरे से टकरा रही थी। 

ठंड में मौसी की चुत से निकाल दिआ पानी – 2

Leave a Comment