चुदाई से भरा हुआ रास्ता – 1

मेरा नाम संजू है, मैं गुजरात के दीव क्षेत्र से हूँ। आज मैं अपने जीवन की एक यादगार Xxx कहानी लेकर आया हूँ। यह हॉट मैरिड गर्ल सेक्स कहानी आज से 4 महीने पहले की है जोकि मेरे साथ जॉब करने वाली लड़की के साथ घटी थी। 

पहले में अपने साथ काम करने वाली लड़की का परिचय दे देता हूं। उसका नाम रंजना है और वो मेरे साथ पिछले कई साल से काम कर रही थी। वैसे तो मेरे और उसके मन में ऐसा कुछ ख्याल था ही नहीं। 

उसके साथ काम करने के दौरान ही मेरी शादी हो गई थी और मेरी शादी को भी अब 7 साल हो गए थे। रंजना की भी शादी हो चुकी और उसकी शादी को भी 6 साल हो गए थे। हम दोनों अपनी अपनी लाइफ में अपने अपने तरीके से जी रहे थे। 

पर कहते हैं ना कि नसीब कहां से कहां ले जाता है। आपको कुछ खबर ही नहीं लगती है। हमारे साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। हम दोनों अपने काम के प्रति वफादार रहते थे और इसी लिए हम दोनों की अच्छी बनती थी। 

एक दिन हमारे ऑफिस में सभी को एक दिन के टूर पर जाने का फैसला किया गया। सभी को टूर पर जाना अनिवार्य था। सब रविवार के दिन सुबह लगभग 7 बजे तैयार होकर यहां से नजदीक पोरबंदर शहर की ओर निकल पड़े। 

हमारे पास एक 14 सीटर गाड़ी थी। मैं और रंजना पास में बैठे थे। रास्ता खराब होने की वजह से हम लोग आपस में टकरा रहे थे। मेरा हाथ बार बार उसके मम्मों को टच कर जाता था। 

माँ और बेटी दोनों मेरे लंड की दीवानी – 1 

साथ में किआ सफर चुदाई का 

फिर भी उसके मन में कोई और भाव नहीं था और ना ही मेरे मन में। फिर वहां जाकर जब सब लोग समुद्र में नहाने गए। वहां कुछ ऐसा हुआ कि उसने जो गाउन पहना था। 

वो भीग गया था भीगने के बाद वह गाउन उसके बदन से एकदम चिपक गया था, जिससे उसके अन्दर का नजारा साफ साफ दिख रहा था। उस वक्त मेरी नियत पहली बार बिगड़ी। मैं बार बार उसको देख रहा था। 

मैंने उसके करीब जाकर उससे कहा- तुम बहुत सुंदर दिख रही हो। उसने मेरी बात पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया पर मेरा लंड उसके मम्मों को देख कर खड़ा हो गया था। कुछ देर बाद जब उसकी नजर जब मेरे बॉक्सर में फूले हुए लंड पर पड़ी तो उसकी आंखों में चमक आ गई। 

मैं उसका 32-30-34 का फिगर ताड़ रहा था। शादी के बाद उसका शरीर थोड़ा भर गया था और काफी अच्छा हो गया था। उसको देख कर लगता था कि उसका पति उसको जम कर चोदता होगा। 

मेरे बॉक्सर में खड़ा लंड देख कर रंजना बोली- क्या हुआ जनाब, अपने केले को कंट्रोल करो, वरना परेशान हो जाओगे। यहां अभी किसी की गुफा खाली नहीं है कि वो तुम्हारे केले को ठंडा कर सके। 

तुम्हें अपने हाथ से काम चलाना पड़ेगा। आज रंजना ने खुल कर जब इस तरह के शब्दों का प्रयोग किया तो मैं और ज्यादा उत्तेजित हो गया। मुझमें कुछ हिम्मत भी आ गई थी। मैंने भी कह दिया- जब तेरी जैसी गुफा यहां उपलब्ध है, तो किसी और का क्या काम। 

फिर मैं अपने हाथ को क्यों तकलीफ दूंगा। इस पर उसने हंस कर जवाब दिया- सीधे पॉइंट पर आ गए … हम्मम्म। मैंने कहा- जैसी आपकी मर्जी मोहतरमा, जबरदस्ती हमें आती नहीं और प्यार में हम कुछ कमी रखते नहीं। 

माँ और बेटी दोनों मेरे लंड की दीवानी – 3

चुदाई के लिए कर लिए होटल बुक

वो बोली- बड़े आशिकाना हो रहे हो! मैंने उसके दूध देखते हुए कहा- जब बड़े बड़े पहाड़ लुभा रहे हों तो कौन चूतिया होगा जो आशिक नहीं बन जाएगा। वो अपने मम्मों को हिलाती हुई बोली- मेरे बड़े बड़े हैं? 

मैंने उसके मम्मों पर पानी फैंकते हुए कहा- दिखते तो बड़े हैं, पर दबाने से मालूम चलेगा कि कितना दम है। वो बोली- तुझे दबाना है? मैंने कहा- हां चूसना भी है। वो बोली- तभी तेरा खड़ा हो गया है। 

मैंने कहा- अब बैठाने की बात भी कर मेरी छम्मक छल्लो। वो आंख मारती हुई बोली- ओए होए छम्मक छल्लो … क्या बात है डार्लिंग आज तो तेरी बीवी बनना ही पड़ेगा। मैंने कहा- हां बन जा ना। मुझे भी चैन मिल जाएगा। 

अब वो मैरिड गर्ल सेक्स के लिए तैयार थी, उसने कहा कि चलो जगह बताओ किधर चलना है? मैंने कहा- ओके कुछ मिनट का टाइम दो। मैंने तुरंत जाकर फोन उठाया और नजदीक के होटल में एक रूम बुक करवा लिया। इसके बाद मैं रंजना को लेने गया। 

उसने कहा- तुम मुझे उस होटल का नाम और रूम नंबर बताओ और होटल में पहुंचो … सभी की नजर से बचकर मैं आती हूँ। मैं तुरंत वहां से निकला और बाहर एक मेडीकल स्टोर से कंडोम का पैकेट लेकर होटल आ गया। 

होटल में आकर मैंने चार पैग लार्ज कमरे में लाने को बोल दिया। दो मिनट बाद एक वेटर चार पैग दे गया और साथ में पानी की बोतल व भुने काजू ले आया। मैंने एक पैग तो तुरंत गटक लिया, फिर सिगेरट सुलगा कर लंड सहलाने लगा। थोड़ी देर में वो भी रूम में आ गई। 

मैंने रूम का दरवाजा बंद करके सबसे पहले उसकी तरफ देखा। वो मुस्कुरा रही थी। मैंने उसका हाथ पकड़ा और उसके साथ बाथरूम में घुस गया। क्योंकि हम दोनों समुद्र में नहा कर आए थे तो पहले उसके नमक को साफ करना था। 

हम दोनों नंगे हो गए और साथ में नहाने लगे। वो मेरे लंड को सहलाने लगी थी और मैं उसके मम्मों को चूस रहा था। उसके बाद दोनों नंगे ही रूम में आ गए। बेड पर आकर हम दोनों एक दूसरे को बांहों में समाने को बेताब थे। मैंने उसे पैग दिया तो वो बोली- हां इसकी बड़ी जरूरत थी।

Leave a Comment