टूशन टीचर की मारी चुत और ख़तम हुआ बचपना

यह मेरी 12वि क्लास चल रही थी और शुरू से ही मेरी मम्मी ने मुझे एक ऐसी टूशन में लगा रखा जहा एक भाभी कहो या आंटी हम लोगो को पढ़ाती थी। वह दिखने में भी बहुत अछि थी और एक टीचर की तरह उनका सब सम्मान भी करते थे। 

पर अब मै भी बड़ा हो गया था और पढाई से ज्यादा मन मेरा हवस की तरफ चल पड़ा था। मै पढ़ते पढ़ते कई बार अपने ख्यालो में ही अपनी टीचर की चुत चुदाई कर आता था। 

यह मेरा मानो रोज का ही काम हो गया था। पर अब धीरे धीरे एग्जाम भी पास आ रहे थे और हम सभी को पढ़ाई पर भी ध्यान देना था। और आखिरी साल होने की वजह से मुझे इस बार नंबर भी अच्छे ही लाने थे। 

अब मेने भी सबकी तरह थोड़ा मन लगाते हुए पढाई करना शुरू कर दिआ और हवस को कुछ दिन के लिए भूलने का निर्णय लिआ। पर अब कुछ यु हुआ की टीचर ने हम कुछ कमजोर बच्चो को पढ़ने के लिए दिन में 2 बार पढ़ाना शुरू कर दिआ। 

अब मेरा मूड भी बहुत खराब हो गया था क्युकी मुझे भी दिन में दो दो बार पढाई करनी पड़ती थी। पर अचानक मेरे मन में अब हवस भर गयी और मुझे यह पढाई एक मोके की तरह नजर आने लगी। 

अब अगले दिन जैसे  ही मै टीचर के घर गया मेने देखा की वह अभी आयी नहीं है और मेने उनका फोन खोल कर चलाना शुरू कर दिआ। मेने देखा की हमारी टीचर के फोन में भी नंगी फिल्मे भरी हुई थी जिसे देख शायद वह अपना जिस्म गरम करती होगी। 

यह भी पढ़िए: Hindi Sex Story

टूशन टीचर को किआ ब्लैकमेल 

तभी मुझे निचे से किसी के आने की आवाज आयी और मुझे लगा की वह मेरा दोस्त है। पर मेरे सामने एकदम से मेरी टीचर आगयी और उन्होंने मुझ उनका फोन चलाते हुए देख लिआ। 

वह मुझे डाटने लगी और मै उन्हें बहुत ही अजीब तरीके से देखता रहा। और कुछ ही देर बाद वह समझ गयी की मेने उनके फोन में नंगी फिल्मे देख ली है और यह बात मै शायद सबको बता भी दूंगा। 

अब टीचर एक दम शांत हो गयी और उन्होंने मुझे कहा की मेने जो भी फोन में देखा है वह मै किसी को भी ना बतायु क्युकी उनकी पढ़ाई की बाहर बहुत ही ज्यादा इज्जत है और किसी को यह सब पता चला तो वह आगे नहीं पढ़ा पायेगी। 

मेने कुछ देर तक सोचा और अपनी टीचर से कहा की मै यह बात किसी को भी नहीं बतायुंग पर मेरी कुछ शर्ते है। मेरी टीचर ने कहा की वह जो भी है वह मैंने को तैयार है। 

मेने अब कहा की अब इस समय पर जितने भी बच्चे पढ़ने आने वाले है सभी को वापस भेज दो। टीचर ने वैसा ही किआ और अब उन्होंने कहा की क्या यह इतना काफी है। 

मेने कहा नहीं और अब मेने कहा की मेरी 2 शर्ते और है जिन्हे अगर वह पूरा करती है तो मै यह सब भूल जायूँगा। टीचर ने मेरी बात में हामी भर दी और कहा की जैसी भी शर्ते है वह मानती और हर चीज के लिए के लिए राजी है। 

मेने टीचर से कहा की मै उनको 2 घंटे के लिए प्यार करना चाहता हु यह मेरी दूसरी शरत है और तीसरी शर्त यह है की आज के बाद वह मुझे कभी किसी के सामने नहीं डाटेंगी। 

टूशन टीचर अब सोच में पड़ गयी और उन्होंने मुझे कहा की वह मेरी दूसरी शर्त नहीं मान सकती। मेने तभी अपने कदम उठाये और बाहर जाने लगा और डर में आते हुए मेरी टीचर ने कहा की उन्हें मेरी दूसरी शर्त भी मंजूर है। 

आंटी ने जबरदस्ती चुदवायी अपनी चुत 

टीचर की घर में करि अच्छे से चुत चुदाई

अब मै और टीचर एक कमरे में चले गए और मेने अंदर से दरवाजा बंद कर दिआ और टीचर ने कहा की यह सब बस २ घंटे क लिए ही है। मेने हामी भरी और टीचर को बिस्तर पर लिटा दिआ। 

अगले ही पल मेने अपने होठो से उनके होठो को चूसने शुरू कर दिआ और उनके कपडे खोलते हुए उन्हें ऊपर से नंगा कर दिआ। धीरे धीरे वह भी मेरे आगोश में आ गयी और मेरा साथ देते हुए मुझे चूमने लगी। 

माहौल बहुत गरम हो चूका था और मेने मेडम की सलवार निकालते हुए उनकी चुत को भी नंगा कर दिआ। अपनी उंगली मेने टीचर की चुत की फांको में डाली और मेरी टीचर आहे लेनी लगी। 

अब मेने मौका देखते हुए उनके पैर खोले और चुत के छेद में अपना लंड डालना शुरू कर दिआ। चुत का छेद बड़ा होने से मेरा लंड एक ही बार में अंदर चला गया और मेने टीचर की चुत मारना शुरू कर दी। 

मै अपने लंड से चुत में जोर जोर के धक्के मार रहा था जिससे टीचर की आहे बहुत तेज हो रही थी और ऐसे ही मेरे जिस्म में भी गर्मी बढ़ती जा रही थी। कुछ ही पल की जोरदार चुदाई के बाद मेरे लंड ने जवाब दे दिआ और मेरा माल निकल गया। 

पर अभी 2 घंटे नहीं हुए थे और इसलिए मेरी टीचर वैसे ही नंगी बिस्तर पर पड़ी रही और हस्ती रही। अब इन 2 घंटो में मेने अपनी टीचर की चुत 3 बार मारी जिससे मेरी टीचर की चुत भी लाल हो चुकी थी और मेरी हवस भी शांत हो गयी थी। 

Leave a Comment