गैर औरत की चुदाई से गुस्सा बीवी को भी अच्छे से चोदा और मनाया

मेरी शादी को आज 6 साल हो चुके है पर मै अभी भी अपनी बीवी की चुदाई करने के बाद खुश नहीं होता हु। यह आदत मेरी शुरू से ही है , जवानी में मेने कई लड़कीओ की चुत मारी थी जिससे मुझे अलग अलग लड़कीओ का नशा सा था। 

आज भी कुछ ऐसा ही हुआ और मै एक रंडी को चोदने के लिए कोठे पर गया। पर वह से वापस आते वक्त मेरे कपड़ो पर रंडी के होठो के निशाँ रह गए जो की मुझे दिखाई भी नहीं दिए। 

अब जैसे ही मै अपने घर गया मेरी बीवी ने मेरे कपड़ो को अच्छे से देखे और वही रंडी के होठो के निशाँ भी उसे अच्छे से दिखाई दे गए और शुरू हो गया लड़ाई का खेल। मुझे कुछ भी समझ आता इससे पहले मेरी बीवी ने रोना शुरू कर दिआ। 

अब कपडे देख मै भी अच्छे से सब समझ गया पर अब यह बात मुझे किसी भी तरीके से दबानी थी। मेने अपनी बीवी को पूरी बात बताय और उससे माफ़ी भी मांगी की वह यह बात हमारे परिवार वालो को ना बताये। 

मेरी बीवी कुछ ही देर बाद चुप हो गयी और कुछ  देर सोचने के बाद बोली की उस रंडी में ऐसा क्या है जो उसके अंदर नहीं है और चुदाई करने के लिए वह जाने से अच्छा मै अपनी बीवी को ही रंडी जैसे क्यों नहीं चोदता। 

ऐसा कहने के बाद मेरी बीवी मुझ पर हावी होना शुरू हो गयी और उसने मेरे कपडे निकालना चालू कर दिए।  मेरे होठो को मेरी बीवी अच्छे से चूसने लगी जो की इससे पहले उसने कभी अच्छे से नहीं किआ था। 

बॉस को दिआ अपना लंड तोहफे में और किये मजे

बीवी ने जगा दी हवस 

अब मेरी बीवी मुझे गरम कर चुकी थी और मेरा लंड भी खड़ा होने लगा था। मेरी बीवी अब नंगी हो गयी और मुझे प्यार करने लगी। कुछ ही देर बाद हम दोनों के कपडे पुरे निकल गए और मेरी बीवी को मै भी प्यार करने लगा। 

अब मेरी बीवी ने मुझे किस करते हुए अपना हाथ मेरे लंड पर रखा और उसे हिलाना शुरू कर दिआ जिससे वह खड़ा होने लगा। कुछ ही देर बाद मेरे लंड की उबाल आ गया था और वह खड़ा हो गया। 

अब मेरी बीवी निचे हुई और मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लग गयी जिससे मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। इससे पहले मेरी बीवी ने मेरे लंड की ऐसी चुसाई नहीं करि थी। 

मेरे लंड के टोपे को मेरी बीवी अपनी जीभ से चाट रही थी जिससे मेरी वासना बढ़ती ही जा रही थी। अब मेरा लंड भी अच्छे से खड़ा हो गया था और मेरी बीवी अब अपनी दोनों टाँगे खोल बिस्तर पर लेट गयी। 

अब मेने अपना लंड बीवी की चुत पर रखा और एक ही धक्के में अपनी बीवी की चुत में घुसा दिआ। मेरी बीवी थोड़ा सा करहाई और अब मेने चुदाई शुरू कर दी। मेरी बीवी तेज तेज आहे ले रही थी और मै निचे अपना लंड अच्छे से उसकी चुत में पेल रहा था। 

अब मेरी बीवी ने मुझे अपनी तरफ खींचा और मुझे चूमते हुए अपनी चुदाई करवाने लग गयी। चुत की चुदाई इतनी तेज हो रही थी की मेरी बीवी की साँसे बहुत तेज चल रही थी और मै भी हाफ रहा था। 

और भी हवस से भरी हुई कहानिया: Antarvasna Story

बीवी की चुत की चुदाई करि रंडी के जैसे

आज मेरी बीवी भी चुदाई क मजा अच्छे से ले रही थी और पहले भी चुदाई करने की वजह से मेरे लंड से पानी भी नहीं निकला था। अब मेरी बीवी ने मुझे निचे किआ और मेरे लंड पर आकर बैठ गयी। 

मेरे लंड को मेरी बीवी ने पूरा अपनी चुत में लिआ और जोर जोर से अपनी चुत की चुदाई करवाना शुरू हो गयी। हफ्ते हुए वह मेरे लंड पर सवारी कर रही थी और मै भी निचे से उसकी चुत मार रहा था। 

अब मेरी बीवी की चुत की हालत बुरी हो चुकी थी पर एक रंडी की तरह मेने अपनी बीवी को नहीं रोका और चुदाई करना जारी रखा। अब मेने अपनी बीवी को लंड से उतारा और घोड़ी बनने को बोल दिआ। 

अब पीछे से मेने अपनी बीवी की चुत में लंड फसाया और जोर जोर से धक्के चुत में मारने लगा। बीवी आह आह करती हुई रंडी के जैसे चिल्ला रही थी और मै भी चुदाई में अपनी पूरी जान लगा रहा था। 

ऐसे ही तूफानी चुदाई के बाद मेरा और मेरी बीवी दोनों का पानी निकल गया और आगे मेने अपनी बीवी को ही रंडी की तरह चोदना शुरू कर दिआ और मजा किआ। 

Leave a Comment